आज भारत ने यूरिया के मामले में आत्मनिर्भरता की ओर एक बड़ा कदम बढ़ाया है – मोदी

*धनबाद में बोले पीएम मोदी*

धनबाद,01 मार्च (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज झारखंड के दौरे पर हैं. झारखंड के दौरे पर पहुंचने के बाद PM MOdI ने सबसे पहले झारखंड में सिंदरी उर्वरक संयंत्र का निरीक्षण किया. उसके बाद उन्होंने इस संयंत्र के साथ-साथ कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. पीएम मोदी ने शुक्रवार को राज्य और राष्ट्र को 35700 करोड़ की विकास परियोजाओं का तोहफा दिया. बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार की पहले से गोरखपुर और रामागुंडम में उर्वरक संयंत्रों का पुनरुद्धार किया गया है. झारखंड का ये संयंत्र देश का तीसरा उर्वरक संयंत्र है जिसे मोदी सरकार ने फिर से विकसित किया है.

गौरतलब है कि करीब 20 साल पहले घाटे के चलते इस संयंत्र को बंद कर दिया गया था. लेकिन पीएम मोदी ने इस संयंत्र को एक बार फिर से शुरू करने की पहल की है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड में 17,600 करोड़ रुपये से अधिक की कई रेल परियोजनाओं का भी उद्घाटन, लोकार्पण और शिलान्यास किया. इसमें देवघर-डिब्रूगढ़ ट्रेन सेवा, टाटानगर और बादामपहाड़ के बीच मेमू ट्रेन सेवा (दैनिक) और शिवपुर स्टेशन से लंबी दूरी की मालगाड़ी शामिल है.

धनबाद के सिंदरी में एक सार्वजनिक रैली के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि, पिछले 10 वर्षों में, हमने आदिवासी समुदाय, गरीबों, युवाओं और महिलाओं के विकास को प्राथमिकता देते हुए झारखंड के लिए काम किया है. हमें अपने देश को 2047 से पहले विकसित बनाना है. आज भारत दुनिया की सबसे तेज़ से आगे बढऩे वाली अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों में से एक है. भारत ने सभी उम्मीदों से बेहतर प्रदर्शन किया है. भारत ने अक्टूबर-दिसंबर की तिमाही में आर्थिक विकास दर 8.4त्न हासिल की है.

पीएम मोदी ने कहा कि बीते दस वर्षों में हमारी सरकार ने रामागुंडम, गोरखपुर, बरौनी इन फर्टिलाइज प्लांट को दोबारा शुरू करवाया है. आज इसमें सिंदरी की नाम भी जुड़ गया है. तालचेल फर्टिलाइजर प्लांट भी अगले एक-डेढ़ साल में शुरू होने जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि मुझे पक्का भरोसा है. देश की जनता पर भरोसा है कि उसके उद्घाटन के लिए भी मैं जरूर पहुंचूंगा. पीएम मोदी ने कहा कि इन पांचों प्लांट से भारत 60 लाख मैट्रिक टन से भी ज्यादा यूरिया का उत्पादन कर पाएगा. यानी भारत तेजी से यूरिया के मामले में आत्मनिर्भर होने की तरफ बढ़ रहा है. इससे न सिर्फ विदेशी मुद्रा की बचत होगी बल्कि वह पैसा किसानों के हितों के लिए खर्च होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि इस खाद कारखाने के लोकार्पण के साथ ही आज भारत ने आत्मनिर्भरता की ओर भी एक बड़ा कदम उठाया है. हर वर्ष भारत में करीब-करीब 360 लाख मैट्रिक टन यूरिया की जरूरत होती है, 2014 में जब हमारी सरकार बनी उस समय देश में 225 लाख मैट्रिक टन यूरिया का उत्पादन होता था. इस बड़े गैप को भरने के लिए भारत में बड़ी मात्रा में यूरिया का आयात करना पड़ता था. इसलिए हमने संकल्प लिया कि देश के यूरिया के मामले में आत्मनिर्भर बनाएंगे, हमारी सरकार के प्रयासों से बीते दस वर्षों में यूरिया का उत्पादन बढ़कर 310 लाख मैट्रिक टन हो गया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, आज सिंदरी उर्वरक कारखाने का लोकार्पण किया गया है. मैंने संकल्प लिया था कि सिंदरी के इस खाद कारखाने को जरूर शुरू करवाऊंगा. ये मोदी की गारंटी थी. और आज ये गारंटी पूरी हुई है. पीएम मोदी ने कहा कि मैं 2018 में इस फर्टिलाइजर प्लांट का शिलान्यास करने आया था. आज सिर्फ सिंदरी कारखाने की ही शुरुआत नहीं हुई है. बल्कि मेरे देश के मेरे झारखंड के नौजवानों के लिए रोजगार के हजारों नए अवसरों की शुरुआत हुई है.

धनबाद में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, आज झारखंड को 35 हजार करोड़ से अधिक की योजनाओं का उपहार मिला है. मैं अपने किसान भाईयों को, मैं अपने आदिवासी भाई-बहनों को इन योजनाओं के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं.

****************************

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version