Passengers traveling in Mumbai's local train will be able to take advantage of digital apps

सेंट्रल रेलवे (मुंबई डिवीजन) और दुनिया का पहला हाइपरलोकल एज क्लाउड प्लेटफॉर्म शुगरबॉक्स नेटवर्क्स के साथ लोकल ट्रेनों में यात्रियों को सफर के दौरान मनोरंजन उपलब्ध कराने के लिए हुये अनुबंध को मंजूरी मिल गई है। इसके लिए मध्य रेलवे ने शुगरबॉक्स कंपनी से हाथ मिलाया है, जो ट्रेनों में मनोरंजक कॉन्टेंट मुहैया कराएगी। रेलवे को यह कंपनी 5 साल में 8.17 करोड़ रुपये देगी। मध्य रेलवे की लोकल ट्रेनों में अब ऐसे डिवाइस लगाए गए हैं, जिससे यात्रियों का मनोरंजन होगा। यात्री अपने मोबाइल पर ही फिल्में, वेब सीरीज या सीरियल का लुत्फ बिना इंटरनेट का इस्तेमाल किए ही उठा सकेंगे। मध्य रेलवे के यात्री अपनी पूरी ट्रेन यात्रा के दौरान मांग पर प्रचलित व प्रासंगिक डिजिटल ऐप्स का भी लाभ ले पाएंगे।

शुगरबॉक्स नेटवर्क्स के को-फ़ाउंडर रोहित परांजपे के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार ट्रेन के हर कोच में दो डिवाइस लगाए गए हैं, जो लोकल एरिया नेटवर्क के तौर पर काम करेंगे। ऐप पर लॉगिन करने के बाद यात्रियों को अपना  मोबाइल नंबर डालना पड़ेगा और ओटीपी मिलने के बाद उनका फोन कनेक्ट हो जाएगा। यात्रीगण कॉन्टेंट को डाउनलोड भी कर सकते हैं। मध्य रेलवे के महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी का मानना है कि यह साझेदारी आधुनिकतम प्रौद्योगिकी के ज़रिए अपने  यात्रियों को प्रदान किए जाने वाले सुविधाओं को बढ़ाने व मध्य रेलवे के भविष्य के लक्ष्यों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

प्रस्तुति – काली दास पाण्डेय

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.