Ranchi residents can get the flag by giving 20 rupees cooperation amount

*समाहरणालय परिसर ब्लॉक A में जेएसएलपीएस ने लगाया स्टॉल

*सुबह 10ः00 बजे से शाम 05ः00 बजे तक लगा रहेगा स्टॉल

*हर घर तिरंगा अभियान को लेकर जागरुकता रथ किया गया रवाना

*सखी मंडल की दीदियों का सहयोग करें 

*अपने घर में झंडा फहराने का प्रण लें

*09 अगस्त से ग्रामीण क्षेत्र में डोर टू डोर झंडा वितरण अभियान

06.08.2022,रांची (FJ)आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा अभियान को लेकर रांची जिला में लोगों को जागरुक करने हेतु जागरुकता वाहन रवाना किया गया। उपायुक्त रांची श्री राहुल कुमार सिन्हा ने समाहरणालय परिसर से हरी झंडी दिखाकर जागरुकता रथ रवाना किया। इस दौरान जिला कार्यक्रम प्रबंधक, झारखंड लाइवलीहुड प्रमोशन सोसायटी श्री दिव्य दीप सिंह, सखी मंडल दीदियां और जेएसएलपीएस के कर्मी उपस्थित थे। जागरुकता वाहन के माध्यम से लोगों को 13-15 अगस्त तक हर घर तिरंगा अभियान एवं राष्ट्रीय ध्वज के प्रति सम्मान को लेकर जागरुक किया जायेगा। जागरुकता रथ के माध्यम से सहयोग राशि देकर शहरी क्षेत्रों में लोग झंडा भी प्राप्त कर सकते हैं।

Ranchi residents can get the flag by giving 20 rupees cooperation amount

समाहरणालय परिसर में स्टॉल

जेएसएलपीएस की ओर से समाहरणालय ब्लॉक A परिसर में स्टॉल लगाया गया है। स्टॉल में सखी मंडल की दीदियों द्वारा बनाया तिरंगा उपलब्ध है। जहां सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक रांची वासी 20 रुपये की सहयोग राशि देकर तिरंगा प्राप्त कर सकते हैं। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क झंडा उपलब्ध कराया जायेगा।

उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा ने स्टॉल पहुंचकर दीदियों द्वारा बनाया गया तिरंगा देखा और उनसे बात की। उन्होंने कहा कि आजादी के 75 वर्ष के उपलक्ष में पूरे देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इस महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा फहराने का संकल्प लिया जा रहा है। इतने बड़े पैमाने पर झंडे बनाने की तैयारियां जेएसएलपीएस की सखी मंडल की दीदियों/माताओं द्वारा की जा रही है। हर घर में इस माध्यम से झंडा फहराया जाएगा साथ ही सभी सखी मंडल की दीदियों को अच्छी आजीविका की व्यवस्था भी सुनिश्चित हो जाएगी।

सखी मंडल की दीदियों का सहयोग करें 

उपायुक्त रांची श्री राहुल कुमार सिन्हा ने कहा कि मेरा सभी से अनुरोध रहेगा कि इन दीदियों का सहयोग करें। इनके द्वारा मेहनत कर बड़े पैमाने पर झंडों का उत्पादन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर रांचीवासी सहयोग राशि देकर एक भी झंडा इनसे लेते हैं तो इन्हें आर्थिक मजबूती मिलेगी।

अपने घर में झंडा फहराने का प्रण लें 

उपायुक्त रांची श्री राहुल कुमार सिन्हा ने रांची वासियों से अपील करते हुए कहा कि इस वर्ष 13 तारीख से लेकर आने वाले दिनों में निश्चित रूप से अपने घर में झंडा फहराने का प्रण लें। एक ऐसा अवसर बनाएं कि पूरी दुनिया में हमारे देश का नाम रोशन हो, सभी लोग जाने की अमृत महोत्सव के दौरान हर घर में झंडा फहराया जा रहा है।

जिला कार्यक्रम प्रबंधक, झारखंड लाइवलीहुड प्रमोशन सोसायटी श्री दिव्य दीप सिंह ने बताया कि कुल 10 लाख झंडे तैयार करने का आर्डर दिया गया था। सर्ड में बनाये गये प्रोडक्शन यूनिट, जिसे सखी मंडल की दीदियां चलाती हैं वहां झंडा बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जेएसएलपीएस द्वारा सभी जिलों से समन्वय स्थापित किया गया है, किसी जिले में झंडा का ज्यादा उत्पादन होने पर दूसरे जिले को भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

09 अगस्त से ग्रामीण क्षेत्र में डोर टू डोर झंडा वितरण अभियान

डीपीएम जेएसएलपीएस ने बताया कि मशीन से कटिंग कर झंडा गांव में दिया जा रहा है, जो दीदियां घर में सिलाई करती हैं वो सिलाई का कार्य कर रही हैं। जेएसएलपीएस को ग्रामीण क्षेत्र में हर घर में झंडा पहुंचाने का टारगेट दिया गया है। हर घर में फ्री ऑफ कॉस्ट सखी मंडल एवं ग्राम संगठन के माध्यम से झंडा पहुंचाना है। उन्होंने बताया कि 09 अगस्त से ग्रामीण क्षेत्र में डोर टू डोर झंडा वितरण अभियान शुरु होगा। फिलहाल आजादी के हर घर झंडा कार्यक्रम को सफल बनाने को लेकर ग्रामीण इलाकों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। हर दिन गांव-गांव में रैलियां निकाली जा रही हैं।

****************************************

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना

इसे भी पढ़ें : आबादी पर राजनीति मत कीजिए

इसे भी पढ़ें : भारत में ‘पुलिस राज’ कब खत्म होगा?

इसे भी पढ़ें : प्लास्टिक मुक्त भारत कैसे हो

इसे भी पढ़ें : इलायची की चाय पीने से मिलते हैं ये स्वास्थ्य लाभ

तपती धरती का जिम्मेदार कौन?

मिलावटखोरों को सजा-ए-मौत ही इसका इसका सही जवाब

जल शक्ति अभियान ने प्रत्येक को जल संरक्षण से जोड़ दिया है

इसे भी पढ़ें : भारत और उसके पड़ौसी देश

इसे भी पढ़ें : चुनावी मुद्दा नहीं बनता नदियों का जीना-मरना

इसे भी पढ़ें : *मैरिटल रेप या वैवाहिक दुष्कर्म के सवाल पर अदालत में..

इसे भी पढ़ें : अनोखी आकृतियों से गहराया ब्रह्मांड का रहस्य

इसे भी पढ़ें : आर्द्रभूमि का संरक्षण, गंगा का कायाकल्प

इसे भी पढ़ें : गुणवत्ता की मुफ्त शिक्षा का वादा करें दल

इसे भी पढ़ें : अदालत का सुझाव स्थाई व्यवस्था बने

इसे भी पढ़ें : भारत की जवाबी परमाणु नीति के

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.