PM Modi changed his profile picture

नई दिल्ली 02 Aug. (Rns/FJ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अपनी प्रोफाइल तस्वीर बदल दी और अपने सोशल मीडिया अकाउंट में की प्रोफाइल पर ‘तिरंगा’ लगा दिया है। इसके साथ लोगों से 2 से 15 अगस्त के बीच सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के अपने अकाउंट पर झंडा लगाने का आग्रह भी किया। प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, “आज 2 अगस्त विशेष है! ऐसे समय में जब हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, हमारा देश हर घर तिरंगा, हमारे तिरंगे को मनाने के लिए एक सामूहिक आंदोलन के लिए पूरी तरह तैयार है। मैं अपनी सोशल मीडिया पर फोटो बदल रहा हूं और आपसे भी यही करने का आग्रह करता हूं।”

पिंगली वेंकय्या को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं महान पिंगली वेंकय्या को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि देता हूं। हमारा राष्ट्र हमें तिरंगा देने के उनके प्रयासों के लिए हमेशा उनका ऋणी रहेगा, हमें बहुत गर्व है। तिरंगे से ताकत और प्रेरणा लेते हुए हम राष्ट्र की प्रगति के लिए काम करते रहें।”

31 जुलाई को अपने मासिक रेडियो संबोधन ‘मन की बात’ में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, “आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 13 से 15 अगस्त तक एक विशेष आंदोलन ‘हर घर तिरंगा, हर घर तिरंगा’ का आयोजन किया जा रहा है। इस आंदोलन का हिस्सा बनकर 13 से 15 अगस्त तक आप अपने घर पर तिरंगा फहराएं या इससे अपने घर को सजाएं।”

उन्होंने आगे कहा, “मेरा यह भी सुझाव है कि 2 अगस्त से 15 अगस्त तक हम सभी अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल पिक्चर्स में तिरंगा लगा सकते हैं। 2 अगस्त का हमारे तिरंगे से विशेष संबंध है। यह दिन पिंगली वेंकैया जी की जयंती है, जिन्होंने डिजाइन किया था। हमारा राष्ट्रीय ध्वज है।”

*********************************

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना

इसे भी पढ़ें : आबादी पर राजनीति मत कीजिए

इसे भी पढ़ें : भारत में ‘पुलिस राज’ कब खत्म होगा?

इसे भी पढ़ें : प्लास्टिक मुक्त भारत कैसे हो

इसे भी पढ़ें : इलायची की चाय पीने से मिलते हैं ये स्वास्थ्य लाभ

तपती धरती का जिम्मेदार कौन?

मिलावटखोरों को सजा-ए-मौत ही इसका इसका सही जवाब

जल शक्ति अभियान ने प्रत्येक को जल संरक्षण से जोड़ दिया है

इसे भी पढ़ें : भारत और उसके पड़ौसी देश

इसे भी पढ़ें : चुनावी मुद्दा नहीं बनता नदियों का जीना-मरना

इसे भी पढ़ें : *मैरिटल रेप या वैवाहिक दुष्कर्म के सवाल पर अदालत में..

इसे भी पढ़ें : अनोखी आकृतियों से गहराया ब्रह्मांड का रहस्य

इसे भी पढ़ें : आर्द्रभूमि का संरक्षण, गंगा का कायाकल्प

इसे भी पढ़ें : गुणवत्ता की मुफ्त शिक्षा का वादा करें दल

इसे भी पढ़ें : अदालत का सुझाव स्थाई व्यवस्था बने

इसे भी पढ़ें : भारत की जवाबी परमाणु नीति के मायने

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.