Pathan's digital rights bought by this OTT platform

03.05.2022 – पठान के डिजिटल राइट्स इस ओटीटी प्लेटफार्म ने खरीदे. बॉलीवुड के किंग खान यानी शाहरुख खान इन दिनों अपनी नयी फिल्म को लेकर सुखिऱ्यों में है। जी हाँ और उनकी मोस्ट अवेटेड फिल्म का नाम पठान है। यह फिल्म साल 2023 में रिलीज होने वाली है, हालाँकि किंग खान ने इसका प्रमोशन अभी से करना शुरू कर दिया है। आप सभी को बता दें कि हर दिन फिल्म को लेकर नयी खबरें भी आ रहीं हैं।

कुछ दिन पहले शाहरुख़ की इस फिल्म के सेट से कुछ तस्वीरें वायरल हुई थी। जिसे दर्शकों ने खूब प्यार दिया था। और अब ताजा रिपोर्ट है कि उनकी फिल्म पठान के डिजिटल राइट्स का सौदा भी हो चुका है। जी हाँ और ये डील करोड़ों में फाइनल हुई है।

सामने आने वाली रिपोर्ट के बाद पता चला है कि फिल्म निर्माताओं ने पठान के राइट्स की डील ओटीटी प्लेटफार्म अमेजन प्राइम के साथ तकरीबन 200 करोड़ से ज्यादा में की है। जी हाँ, सुनकर आपको यकीन तो नहीं हो रहा होगा लेकिन यह सच बताया जा रहा है। हालाँकि अब तक निर्माताओं या शाहरुख खान की तरफ से इस बारे में कोई भी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। आप सभी को बता दें कि काफी समय बाद शाहरुख खान फिल्म पठान से अपनी वापसी कर रहे हैं। वहीं इस बार किंग खान एक बार फिर से सुपरहिट एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के साथ स्क्रीन शेयर करते दिखाई देंगे।

कहा जा रहा है फिल्म में शाहरुख का लुक बेहद ही दमदार होने वाला है। वहीं उनके और दीपिका के अलावा भी फिल्म में कई कलाकार दिखाई देने वाले हैं। जी दरअसल फिल्म में दिग्गज अभिनेत्री डिंपल कपाडिय़ा, आशुतोष राणा, जॉन अब्राहम और सलमान खान भी दिखाई देंगे और इस फिल्म के अलावा शाहरुख़ के पास एटली कुमार की फिल्म लॉयन और राजकुमार हिरानी की फिल्म डंकी भी हैं। (एजेंसी)

************************************

मिलावटखोरों को सजा-ए-मौत ही इसका इसका सही जवाब

जल शक्ति अभियान ने प्रत्येक को जल संरक्षण से जोड़ दिया है

इसे भी पढ़ें : भारत और उसके पड़ौसी देश

इसे भी पढ़ें : चुनावी मुद्दा नहीं बनता नदियों का जीना-मरना

इसे भी पढ़ें : *मैरिटल रेप या वैवाहिक दुष्कर्म के सवाल पर अदालत में..

इसे भी पढ़ें : अनोखी आकृतियों से गहराया ब्रह्मांड का रहस्य

इसे भी पढ़ें : आर्द्रभूमि का संरक्षण, गंगा का कायाकल्प

इसे भी पढ़ें : गुणवत्ता की मुफ्त शिक्षा का वादा करें दल

इसे भी पढ़ें : अदालत का सुझाव स्थाई व्यवस्था बने

इसे भी पढ़ें : भारत की जवाबी परमाणु नीति के मायने

इसे भी पढ़ें : संकटकाल में नयी चाल में ढला साहित्य

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.