Meeting regarding the program to be organized on World Tribal Day

आदिवासी कल्याण आयुक्त श्री मुकेश कुमार ने की कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा

04.08.2022 (FJ) – विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग झारखंड सरकार द्वारा मोरहाबादी मैदान में दो दिवसीय कार्यक्रम की तैयारी जारी है। 09 एवं 10 अगस्त 2022 को आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम की तैयारी को लेकर आज दिनांक 03 अगस्त 2022 को आदिवासी कल्याण आयुक्त श्री मुकेश कुमार एवं उपायुक्त रांची श्री राहुल कुमार सिन्हा ने समीक्षा की।

समाहरणालय ब्लॉक ए स्थित उपायुक्त सभागार में आयोजित बैठक में निदेशक जनजातीय शोध संस्थान श्री रणेन्द्र कुमार, उपविकास आयुक्त रांची श्री विशाल सागर, कार्यक्रम को लेकर जिला स्तर पर बनाये गये विभिन्न कोषांगों के नोडल पदाधिकारी, सहयोगी पदाधिकारी, इवेंट मैनेजर आदि उपस्थित थे।

बैठक के दौरान आदिवासी कल्याण आयुक्त श्री मुकेश कुमार ने कार्यक्रम की तैयारी एवं सफल संचालन के लिए जिला स्तर पर गठित विभिन्न कोषांगों के नोडल पदाधिकारियों से अब तक गयी तैयारी की जानकारी लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कार्यक्रम के दौरान बेहतर व्यवस्था को लेकर राज्य स्तर से प्राप्त निर्देशों के बारे में पदाधिकारियों को बताया।

बैठक के दौरान उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा ने सभी कोषांगों के कार्यों की समीक्षा करते हुए राज्य स्तरीय कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु पूरे सामर्थ्य से कार्य निष्पादन करने को कहा। उन्होंने कहा कि हर कोषांग अपने कार्य एवं दायित्व का निर्वहन गंभीरता से करें, तैयारी में किसी तरह की कमी न हो। इवेंट मैनेजर से तैयारी से संबंधित आवश्यक जानकारी लेते हुए उपायुक्त ने जिला प्रशासन और मैनेजिंग टीम को टैग करने के निदेश दिये ताकि कार्यक्रम की तैयारी सुचारु रुप से हो सके।

*************************************

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना

इसे भी पढ़ें : आबादी पर राजनीति मत कीजिए

इसे भी पढ़ें : भारत में ‘पुलिस राज’ कब खत्म होगा?

इसे भी पढ़ें : प्लास्टिक मुक्त भारत कैसे हो

इसे भी पढ़ें : इलायची की चाय पीने से मिलते हैं ये स्वास्थ्य लाभ

तपती धरती का जिम्मेदार कौन?

मिलावटखोरों को सजा-ए-मौत ही इसका इसका सही जवाब

जल शक्ति अभियान ने प्रत्येक को जल संरक्षण से जोड़ दिया है

इसे भी पढ़ें : भारत और उसके पड़ौसी देश

इसे भी पढ़ें : चुनावी मुद्दा नहीं बनता नदियों का जीना-मरना

इसे भी पढ़ें : *मैरिटल रेप या वैवाहिक दुष्कर्म के सवाल पर अदालत में..

इसे भी पढ़ें : अनोखी आकृतियों से गहराया ब्रह्मांड का रहस्य

इसे भी पढ़ें : आर्द्रभूमि का संरक्षण, गंगा का कायाकल्प

इसे भी पढ़ें : गुणवत्ता की मुफ्त शिक्षा का वादा करें दल

इसे भी पढ़ें : अदालत का सुझाव स्थाई व्यवस्था बने

इसे भी पढ़ें : भारत की जवाबी परमाणु नीति के 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.