Home हरियाणा हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार...

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार शिक्षण संस्थानों को व्यक्तिगत लाभ और सामाजिक हित दो श्रेणियों के आधार पर जमीन देने की योजना तैयार कर रही है तथा राज्य सरकार इस प्रकार

49
0
SHARE

25-मई, 2015

चण्डीगढ़, 25 मई – हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार शिक्षण संस्थानों को व्यक्तिगत लाभ और सामाजिक हित दो श्रेणियों के आधार पर जमीन देने की योजना तैयार कर रही है तथा राज्य सरकार इस प्रकार के शिक्षण संस्थानों को जमीन देने के अलग-अलग मापदंड निर्धारित करेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में शिक्षा के स्तर में सुधार लाने और विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा मुहैया करवाने के लिए सरकारी स्कूलों व निजी शिक्षण संस्थानों के साथ समझौता किया जाएगा। प्रदेश सहित देश के विभिन्न राज्यों में शिक्षा और संस्कार के साथ-साथ नैतिकता का पाठ पढ़ाने वाली विद्याभारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान हरियाणा प्रदेश में जिस भी जिले में स्कूल खोलना चाहेगी, सरकार की तरफ से विद्याभारती संस्थान को जमीन उपलब्ध करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज कुरुक्षेत्र के श्रीमदभगवत गीता वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में 4 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले मल्टी परपज़ हॉल व गीता निकेतन आवासीय विद्यालय के प्रांगण में करीब 8 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले लव-कुश छात्रावास विस्तार खंड का शिलान्यास करने के उपरांत आयोजित एक भव्य समारोह में लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दोनो शिक्षण संस्थानों को एक-एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की। इसके अलावा प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने 11-11 लाख और सांसद राजकुमार सैनी ने 21-21 लाख रुपए देने की घोषणा की है। इसके अतिरिक्त स्कूल के छात्र-छात्राओं ने भी 11 लाख और पुरातन छात्रों ने भी 21 लाख रुपए देने की घोषणा की है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने श्रीमदभगवत गीता स्कूल में हवन यज्ञ में आहुति डाली और मल्टी परपज़ हॉल व छात्रावास की नींव का पत्थर रखा। मुख्यमंत्री ने इस स्कूल के साथ जुड़ी सालों पुरानी यादों को तरोताजा करते हुए कहा कि कभी सोचा भी नहीं था कि इस स्कूल के भवन में मुख्यमंत्री बनकर किसी भवन की आधारशिला रखेंगे। इस स्कूल में संघ के एक शिविर में अपने पिता के साथ बिताए क्षणों को याद करते हुए मुख्यमंत्री भावुक हो गए और लोगों से पुरानी यादों के अहम पलों को सांझा करते हुए कहा कि इस स्कूल से जो संस्कार मिले हैं, उन्हीं संस्कारों के चलते आज प्रदेश में लोगों की सेवा करने के लिए ही मुख्यमंत्री की जिम्मेवारी सौंपी गई है। अपने इस दायित्व का निर्वाह पूरी ईमानदारी के साथ करेंगे और हरियाणा प्रदेश की आम जनता के दुख-दर्द को दूर करेंगे। उन्होंने कहा कि विद्याभारती शिक्षण संस्थान द्वारा देश में करीब 23 हजार विद्यालय चलाए जा रहे हैं और इन विद्यालयों में करीब 30 लाख विद्यार्थी संस्कारों, नैतिक शिक्षा, देश भक्ति की शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। देश को फिर से विश्व गुरू बनाने के लिए हर व्यक्ति का निर्माण करना जरूरी है। इसी उद्देश्य को लेकर ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा सरकार अपनी योजनाओं को अमलीजामा पहनाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि 7 महीने में पिछली सरकारों द्वारा बिगाड़ी गई व्यवस्था को ठीक करने में लगे हैं। राज्य सरकार पूरे दायित्व के साथ अपना काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले 5 सालों में राज्य सरकार प्रदेश में राम राज्य स्थापित करेगी और लोग स्वयं आंकलन करेंगे कि पिछली सरकार का कार्यकाल रावण राज्य से कम नहीं था। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूलों में विद्यार्थियों को दी जा रही शिक्षा से लोग संतुष्ट नहीं हैं। अभी हाल ही में 10वीं की परीक्षा का परिणाम महज 31 प्रतिशत और 12वीं कक्षा का परिणाम सरकारी व निजी मिलाकर 54 प्रतिशत रहा। इतना ही नहीं, पिछली सरकार ने पहली से 8वीं कक्षा तक की परीक्षा को ही समाप्त कर दिया, जिससे विद्यार्थियों के ऊपर परीक्षा का डर ही खत्म हो गया। ऐसे में राज्य सरकार को विद्यार्थियों को अच्छी से अच्छी शिक्षा मुहैया करवाने की चिंता है। इसके लिए राज्य सरकार मंथन कर रही है। विद्याभारती अखिल भारतीय सरंक्षक पदमश्री ब्रहमदेव शर्मा भाई जी ने कहा कि देश परिवर्तन और अच्छाई की दिशा में बढ़ रहा है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल केवल सेवा भाव से ही काम कर रहे हैं। विद्याभारती संस्थान की तरफ से देश के 40 लाख विद्यार्थियों को संस्कार, नैतिकता और देशभक्ति की शिक्षा देने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार केवल सुविधा व सहयोग के साथ-साथ बाधाओं को दूर करने में मदद कर सकती है लेकिन समाज को शिक्षित करने के लिए हर व्यक्ति के सहयोग की जरुरत है और हर व्यक्ति को आगे आना होगा। अच्छी शिक्षा देकर की देश व समाज को प्रगति की राह पर लाया जा सकता है। सांसद राजकुमार सैनी ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि गीता स्कूल देश के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों में से एक है। इस स्कूल में अच्छे संस्कार और अच्छी शिक्षा मुहैया करवाई जा रही है। इन उपलब्धियों पर उन्होंने विद्याभारती संस्थान के प्रबंधकों व शिक्षकों को बधाई दी है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने कहा कि इस शिक्षण संस्थान में दो नई बढ़ी योजनाओं को शुरू किया गया है। इन योजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिए राज्य सरकार हर संभव मदद करेगी। इस कार्यक्रम में स्कूल के विद्यार्थियों ने बेहतरीन देश भक्ति से जुड़े सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देकर सबका मन मोह लिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के ओएसडी राजकुमार भारद्वाज, थानेसर विधायक सुभाष सुधा, लाडवा विधायक डा. पवन सैनी, उपायुक्त सीजी रजिनिकांतन, पुलिस अधीक्षक सिमरदीप सिंह, विद्याभारती के अध्यक्ष श्रीपाल सिंह, स्कूल प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष कुलवंत राय छाबड़ा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रतनलाल, ओम प्रकाश गुप्ता, सतपाल शर्मा, रमेश कुमार, अनिल कुमार, भाजपा के जिलाध्यक्ष धुम्मन सिंह किरमिच, जय भगवान शर्मा डीडी, धर्मवीर मिर्जापुर, रविंद्र सांगवान, पूर्व विधायक बंता राम वाल्मिकी, पूर्व सांसद गुरदियाल सिंह सैनी, गुरदियाल सनेहड़ी, विद्याभारती के निदेशक डा. रामेंद्र सिंह, स्कूल के प्रिंसीपल डा. रिषी गोयल, प्रिंसीपल अनिल कुलश्रेष्ठ, एसडीएम सतबीर कुंडु सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here