Home jharkhand मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने झारखण्ड मातृ शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण माह...

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने झारखण्ड मातृ शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण माह का शुभारम्भ किया

262
0
SHARE
????????????????????????????????????
CM inaugurates Jharkhand Matri Shishu Swasthya evam Poshan Maah
CM inaugurates Jharkhand Matri Shishu Swasthya evam Poshan Maah

????????????????????????????????????

????????????????????????????????????

????????????????????????????????????

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने झारखण्ड मातृ शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण माह का शुभारम्भ किया 

राँची,दिनांक-01.06.2015  मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि मानव संसाधन देश की सबसे बड़ी पूंजी है। स्वस्थ्य मानव संसाधन से ही तरक्की सम्भव है। इसी उद्देश्य को लेकर आज से एक माह तक ‘‘झारखण्ड मातृ शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण कार्यक्रम’’ चलाया जाएगा। वे आज प्रोजेक्ट भवन स्थित सभा कक्ष में ‘‘झारखण्ड मातृ शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण माह’’ का शुभारम्भ कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने विवरणीका का विमोचन किया तथा नन्हें बच्चों को बिटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाई।
उन्होंने कहा कि झारखण्ड को कुपोषणमुक्त राज्य बनाना है। खासकर संताल परगना में कुपोषण से मुक्ति हेतु विशेष कार्य करने की आवश्यकता है। राज्य से कुपोषण को समाप्त करने के लिए ही पोषण सखियों की नियुक्ति की जा रही है, जो घर-घर सर्वेक्षण कर बच्चों, गर्भवती महिलाओं, किशोरियों एवं धातृ महिलाओं का कार्ड बनाएंगी। ग्रामीण क्षेत्रों में अशिक्षा, अज्ञानता की चर्चा करते हुए उन्होंने सभी स्वास्थ्य कर्मियों, आंगनबाड़ी कर्मियों एवं पंचायती राज प्रतिनिधियों से अपेक्षा है कि वे हरेक आदमी तक मातृ शिशु कल्याण माह का संदेश पहुंचाएं एवं स्वयं भी इस कार्यक्रम में सक्रिय भागीदारी निभाएं।
स्वास्थ्य मंत्री श्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी ने कहा कि इस दौरान सभी 9 माह से 5 वर्ष की आयु वर्ग के सभी बच्चों को बिटामिन ‘ए’ की खुराक दी जाएगी। साथ ही 1 से 5 वर्ष के बच्चों को कृमिनासक दवा भी दी जाएगी। छुटे हुए बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री संजय कुमार, प्रधान सचिव स्वास्थ्य श्री के0 विद्यासागर, प्रधान सचिव समाज कल्याण श्रीमती मृदुला सिन्हा, एन0आर0एच0एम0 के प्रबंध निदेशक श्री आशीष सिंहमार, निदेशक प्रमुख स्वास्थ्य डाॅ0 सुमंत मिश्रा, युनिसेफ की संचार अधिकारी मायरा डाबा सहित बड़ी संख्या में महिलाएं बच्चे उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here