Home छत्तीसगढ़   केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा ने दी जानकारी : छत्तीसगढ़ में...

  केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा ने दी जानकारी : छत्तीसगढ़ में दो कैंसर अनुसंधान संस्थान शुरू करने के लिए 195 करोड़ रूपए जारी : बिलासपुर और मनेन्द्रगढ़ में होगी स्थापना

42
0
SHARE

00हर आदमी की सेहत का ख्याल रखना सरकार की जिम्मेदारी

रायपुर, 19 जुलाई 2015

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री जे.पी.नड्डा ने बताया कि राज्य सरकार के प्रस्ताव पर केन्द्र ने छत्तीसगढ़ के बिलासपुर और मनेन्द्रगढ़ में कैंसर अनुसंधान संस्थान शुरू करने के लिए 195 करोड़ रुपए जारी कर दिए हैं। इनमें बिलासपुर में राज्य स्तरीय केंसर अनुसंधान संस्थान के लिए 150 करोड़ रुपए और कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ में टर्शरी केंसर अनुसंधान संस्थान के लिए 45 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही राजनांदगांव स्थित मेडिकल कॉलेज के विकास के लिए भी 14 करोड़ रुपए दिए गए हैं। श्री नड्डा ने आज मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह की अध्यक्षता में राजधानी रायपुर के कमल विहार आवासीय परियोजना क्षेत्र स्थित एक निजी अस्पताल का शुभारंभ करने के बाद आयोजित समारोह में यह जानकारी दी। शुभारंभ समारोह में विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल, रायपुर के लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस, गृह मंत्री श्री रामसेवक पैंकरा, स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चंद्राकर, कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, विवेकानंद आश्रम के स्वामी जी श्री सत्यरूपानंद महाराज और महापौर श्री प्रमोद दुबे विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।
मुख्य अतिथि की आसंदी से केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे.पी.नड्डा ने कहा कि देश के हर नागरिक के स्वास्थ्य की देखभाल करना सरकार की प्राथमिक जिम्मेदारी है। केन्द्र सरकार राज्य सरकारों के सहयोग से अपने इस दायित्व को निभाने के लिए व्यवस्थित रूप से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि सभी शासकीय अस्पतालों को मजबूत करने के साथ ही सरकार लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के लिए निजी भागीदारी (पीपीपी) वाली मॉडल पर भी गंभीरता से  विचार कर रही है। सरकार उचित दर पर गुणवत्ता पूर्ण ईलाज सुविधा मुहैया कराने में सक्षम निजी अस्पतालों से इसके लिए अनुबंध करेगी। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार उपचार की सभी पद्धतियों को समान महत्व दे रही है। एलौपेथिक के साथ-साथ आयुष पद्धतियों को भी सरकारी अस्पतालों में शुरू किया गया है। श्री नड्डा ने कहा कि श्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में रायपुर समेत छह स्थानों पर एम्स की स्थापना हुई। इनमें रायपुर का एम्स सबसे अच्छा विकास कर रहा है। इसके विकास के लिए केन्द्र सरकार की ओर से फण्ड की कोई कमी आने नहीं दी जाएगी।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने हर वर्ग के लोगों को इलाज के लिए मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत स्मार्ट कार्ड वितरित किए हैं। छत्तीसगढ़ देश में अकेला राज्य है जो अपने प्रदेश के गरीब और अमीर सभी नागरिकों को इस योजना के अंतर्गत उपचार सुविधा प्रदान किया है। इस योजना के तहत लोग किसी निजी अस्पताल में भी ईलाज करा सकता है। मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना के तहत लगभग एक हजार नन्हें बच्चों के दिल का आपरेशन किया जाता है। डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की बेहतर स्वास्थ्य नीति के चलते ही यहां के लोगों की एमएमआर,आईएमआर और कुपोषण दर में उल्लेखनीय कमी आई है। मुख्यमंत्री ने दो सौ बिस्तर की सुपर स्पेशिलिटी सुविधा युक्त निजी अस्पताल शुरू करने के लिए डॉ. पूणेन्दु सक्सेना और डॉ. सुरेन्द्र शुक्ला और उनकी पूरी टीम को बधाई और शुभकामनाएं दी। डॉ. सिंह ने उम्मीद जताई कि यह अस्पताल अपनी पहचान के अनुरूप मध्यम और गरीब वर्ग के लोगों के लिए उपचार का बेहतर केन्द्र साबित होगा। मुख्य अतिथि श्री नड्डा सहित सभी वक्ताओं ने निजी क्षेत्र के इस नये अस्पताल (वी.वाई.अस्पताल) के शुभारंभ पर संस्था के सभी पदाधिकारियों को बधाई और शुभकामनाएं दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here