सभी डाॅक्टर समय से डयूटि पर उपस्थित रहे:- के0 विधासागर

press_release_11639_23-04-2015 रांची, दिनांक 23/4/2015 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन झारखण्ड के अंर्तगत, नामकोम स्थित आई0 पी0 एच0 सभागार में के0 विधासागर, प्रधान सचिव, स्वास्थ्य विभाग झारखण्ड की अध्यक्षता में वितिय वर्ष 14.15 में सभी जिलों में स्वास्थ्य क्षेत्रों में किए गए कार्यो की समीक्षा बैठक किया गया। बैठक में सभी जिलों के सिविल सर्जन, त्क्क् ;त्महपवदंस क्मचनजल क्पतमबजवतद्ध ने भाग लिया। बैठक का उद्धेश्य छभ्ड एवं राज्य योजना तथा गैर योजना पर विस्तृत चर्चा व कार्य की प्रगति का मूल्यांकन करना था। बैठक में मुख्य रूप से 13 बिंदुओं पर चर्चा किया गया। वितिय वर्ष 14.15 में दवाओं का आवंटन तथा क्पेजतपबज भ्वेचपजंस मे उपलब्धता। कुत्ता काटने से प्रभावित मरिजों की संख्या तथा अगले वर्ष के लिए अनुमानित दवा हेतु राशि की आवश्यकता। डाॅक्टर आदि के स्थांनन्तरण के आदेश के अनुपालन की स्थिित। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंर्तगत की गई बहाली की स्थिित, अनुबंधित ए0 एन0 एम0 के स्थायीकरण का प्रतिवेदन। स्वच्छ भारत अभियान की स्थिित, नए भवनो के निर्माण की स्थिति, समय सीमा एवं उदघाटन की तिथि। प्रधान सचिव, ने इस दौरान सभी सिविल सर्जन को बारी बारी से आपने जिलें में किए गए कार्यो का विवरण देने की बात कही। उन्होने प्रत्येक जिलें अस्पताल में सभी लोगो को साल भर में मुफ्त में दवा देने के लिए कितनी दवा की आवश्यकता पडेगी एवं कितना खर्च आऐगा सभी जिलों से इसके लिए एक हफ्ते में ब्यौरा मांगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंर्तगत वितिय वर्ष 14.15 में कितनी राशि भारत सरकार से प्राप्त हुई, जिला द्वारा कितनी राशि खर्च की गई एवं शेष बची राशि का ब्यौरा 15 मई तक देने को कहा साथ ही लेखा शाखा को निर्देश दिया है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंर्तगत कितने बैंको में राशि पडी हुई है उसका ब्यौरा एक सप्ताह में उपलब्ध करवाया जाऐ। सभी जिला को निर्देश दिया गया है कि 15 मई तक सभी जिला प्रखण्ड़ स्तर तक च्थ्डै ;च्नइसपब थ्पदंदबम डवदपजवतपदह ैलेजमउद्ध का रजिस्ट्रेशन हो जाना चाहिए। प्रधान सचिव ने कहा कि जो लोग कार्य नही करेंगें उनके कार्य के मूल्यांकन के आधार पर कार्यवाई की जाऐगी। स्वच्छ भारत अभियान पर उनके द्वारा बताया गया कि जिस तरह हमलोग अपने घरों को साफ सुथरा रखते है उसी तरह सभी स्वास्थ्य केन्द्रो की साफ सफाई पर ध्यान रखना है। इससे पूर्व डाॅ0 ऐ0 के0 चैधरी, स्वास्थ्य सेवाऐं ने मोडल हेल्थ फैसिलिटि बनाये जाने पर चर्चा की। उन्होने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने इस कार्य के लिए 10 करोड़ की राशि आवंटित की है। राज्य भर में 50 एच0 एस0 सी0 ( स्वास्थ्य उपकेन्द्र), 25 पी0 एच0 सी0 (प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र्र) एवं 5 सी0 एच0 सी0 (सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र) मोडल केन्द्र बनाया जाना है। इस बैठक में डाॅ0 सुमंत मिश्रा, निदेशक प्रमुख, स्वास्थ्य सेवाऐं डाॅ0 एम0 एन0 लाल, अपर निदेशक, स्वास्थ्य सेवाऐं, डाॅ0 अजित प्रसाद, उपनिदेशक, डाॅ0 पुष्पा मारिया बेक, राज्य मलेरिया पदाधिकारी, डाॅ0 तुनुल हेमरोम, उपनिदेशक, तथा अन्य पदाधिकारी, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के कर्मीयों ने भाग लिया।
नोडल

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *