17-अप्रैल, 2015
चण्डीगढ़, 17 अप्रैल – हरियाणा वित्त विभाग ने सरकारी खजानों के माध्यम से दी जा रही विभिन्न प्रकार की छात्रवृतियां व अन्य लाभकारी योजनाओं की अदायगियों को आधार कार्ड आधारित क्रियान्वित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। वित्त विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इस के लिए भारतीय विशिष्टï पहचान प्राधिकरण, संबंधित बैंकों तथा भारतीय राष्ट्रीय अदायगी निगम व सभी विभागों के साथ विचार-विर्मश कर एक समान प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया जाएगा। सभी विभागों को भारतीय राष्ट्रीय अदायगी निगम के साथ ट्रेजरी बैंकों के माध्यम से आधार अदायगी के लिए पंजीकरण करवाना होगा और प्रत्येक योजना की जानकारी संबंधित विभाग द्वारा भरी जाएगी और जिसे एनपीसीआई को यूज़र कोड या यूज़र नेम सृजित करने के लिए भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी विभागों को भारत सरकार की अनुमोदित एजेंसी द्वारा विभाग के नोडल अधिकारी या आहरण एवं वितरण अधिकारियों के डिजिटल हस्ताक्षर की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। खजाना कार्यालय द्वारा आधार आधारित अदायगियों के लिए केवल डिजिटल हस्ताक्षर ही स्वीकार्य होंगे। उन्होंने बताया कि किसी भी प्रकार की असुविधा से बचने के लिए व आंकड़ों की पुनरावृत्ति से बचने के लिए विभागों को एनआईसी से सम्पर्क करना होगा।
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *