17-अप्रैल, 2015
चण्डीगढ़, 17 अप्रैल – हरियाणा में चालू पिराई मौसम के दौरान सहकारी चीनी मिलों द्वारा अब तक 301.99 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 27.85 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। इसके अलावा असन्ध चीनी मिल ने 28.70 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.85 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। हरियाणा के सहकारिता राज्यमंत्री श्री बिक्रम सिंह यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि शाहबाद सहकारी चीनी मिल 60.95 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 6.16 लाख क्विंटल चीनी के उत्पादन के साथ पहले स्थान पर है। रोहतक सहकारी चीनी मिल 41.40 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 3.46 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन करके दूसरे स्थान पर रही है। इसी प्रकार, करनाल सहकारी मिल ने अब तक 28.96 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.84 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन, कैथल सहकारी मिल ने 30.53 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.82 लाख क्विंटल, गोहाना सहकारी मिल ने 29.29 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.62 लाख क्विंटल, पानीपत सहकारी मिल ने 23.56 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.23 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया। उन्होंने बताया कि महम सहकारी मिल ने 28.69 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 2.46 लाख क्विंटल, सोनीपत सहकारी मिल ने 22.36 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.97 लाख क्विंटल, जीन्द सहकारी मिल ने 20.51 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.85 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया। पलवल सहकारी मिल ने 15.74 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.39 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया।
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *