Home breaking_news सरकार न्यायपालिका में मैनपावर की कमी को दूर करने की दिशा में...

सरकार न्यायपालिका में मैनपावर की कमी को दूर करने की दिशा में काम कर रही है – मुख्यमंत्री

43
1
SHARE

*मुख्यमंत्री ने झालसा में सिविल जज पद पर नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम को किया संबोधित

*सरकार न्यायपालिका में मैनपावर की कमी को दूर करने की दिशा में काम कर रही है- मुख्यमंत्री

*40 सिविल जजों को मिला नियुक्ति पत्र जल्द ही 75 अन्य सिविल जजों की होगि नियुक्ति- रघुवर दास

*सभी वर्गों को त्वरित न्याय मिले, इसका प्रयास करें – मुख्यमंत्री

रांची, 28.01.2018 – मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि भारत की न्याय व्यवस्था पर देशवासियों का अटूट विश्वास है। इससे न्यायपालिका से जुड़ रहे लोगों की जिम्मेवारी और बढ़ जाती है। हमारी सरकार न्यायपालिका में मैनपावर की कमी को दूर करने की दिशा में काम कर रही है। इसी कड़ी में 40 सिविल जजों की नियुक्ति की गयी है। आनेवाले कुछ महीनों में 75 और नियुक्तियां होंगी। जल्द ही न्याय पालिका के मैनपावर की कमी को पूरा कर लिया जायेगा। न्यायाधीश लंबित मामलों को निपटारा तेजी से करें, इससे लोगों को समय से न्याय मिलेगा। वे आज झालसा में सिविल जज पद पर नियुक्ति पत्र वितरण के बाद लोगों को उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आधुनिक समाज के निर्माण में अच्छी कानून और न्याय प्रणाली की भूमिका महत्वपूर्ण है। इसके अभाव में आधुनिक समाज कार्य नहीं कर पाता है। उन्होंने कहा कि ऐसी व्यवस्था करनी है, जो विवादित मुद्दों का चुस्ती, निष्पक्षता व कुशलतापूर्वक निपटारा करने में सक्षम हो। उन्होंने कहा कि नवनियुक्त सिविल जज (जूनियर डिविजन) पूरे मनोयोग से प्रशिक्षण प्राप्त करें। सभी वर्गों को त्वरित न्याय मिले, इसका प्रयास करें।

श्री दास ने कहा कि झारखंड में अब तक 69,838 से अधिक स्थायी पदों पर सीधी भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी, इसमें 29,907 पदों पर नियुक्तियां की जा चुकी हैं। साथ ही विभिन्न विभागों में संविदा के आधार पर 32 हजार पदों पर नियुक्तियां की गयी है। इसमें 90 प्रतिशत बहाली स्थानीय लोगों की हुई है। आनेवाले समय में सरकार नियुक्ति की प्रक्रिया का सरल और सुगम बनाने का प्रयास करेगी।

कार्यक्रम में झारखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश (कार्यवाहक) श्री डी0एन0 पटेल, न्यायाधीश श्री एच0सी0 मिश्र, विकास आयुक्त श्री अमित खरे, कार्मिक विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती निधि खरे, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री सुनील कुमार बर्णवाल, विधि सचिव श्री प्रवास कुमार सिंह, ज्यूडिशियल एकेडमी के निदेशक गौतम चौधरी समेत बड़ी संख्या में गण्यमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

****

(FJB)

1 COMMENT

  1. बहुत अच्छा मुख्यमंत्री जी! और न्याय में विलंब को दूर करने के लिए?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here