Home jharkhand_aas_paas * ’’राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव-2017-18’’

* ’’राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव-2017-18’’

73
0
SHARE

राँची, 04.01.2017 – मंचन रांची के मोरहाबादी मैदान में चल रहे ’’राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव-2017-18 में देश भर से आये शिल्पकारों के हस्तनिर्मित वस्तुओं को देखने लोग दूर- दूर से आ रहे हंै। भारतीय संस्कृति एवं परम्पराओं की झलक महोत्सव में देखने को मिल रही है।मोरहाबादी मैदान में लगे राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव के समापन का दिन निकट आता जा रहा है, लोग कम समय में ज्यादा से ज्यादा खरीददारी कर रहे हैंै। स्थानीय एवं राष्ट्रीय स्तर के कई हस्तशिल्पी एवं हुनरमंद कलाकारों ने अपने स्टाॅल लगाये हैं, उनमें संथाल परगना ग्रामोद्योग समिति, खादी ग्रामोद्योग संघ, हिरणपुर लिटटी पाड़ा समग्र विकास परिषद, लोक सेवा केन्द्र चाईबासा शिकारीपाड़ा समग्र विकास परिषद, बदलाव फाउन्डेशन, आदिम जाति समग्र विकास परिषद, वनांचल खादी ग्रामोद्योग संस्थान, हटिया, राँची, महादेव स्मारक खादी ग्रामोद्योग मंडल हिनु, राँची, गदाधर मिश्र स्मारक निधि गांधी ग्राम गोड्डा, आदिवासी समग्र विकास परिषद पालकोट, गुमला, खादी ग्रामोद्योग संघ, हजारीबाग, सिंहभूम ग्रामोद्योग विकास संस्थान निमडीह, चाईबासा, झारखण्ड खादी भंडार, बोकारो। झारखण्ड राज्य के इन खादी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने बताया कि मेले में आने वाले आगन्तुक हस्तनिर्मित कम्बल, ऊनी बन्डी, साड़ी, गमछा, चादर इत्यादि खरीददारी कर रहे हैंे। खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के द्वारा उपलब्ध कराया गया यह मंच खादी संस्थाओं से जुड़े लोगों के आजीविका का साधन है।राष्ट्रीय खादी एवं सरस मेले में आज बच्चों के लिए समूह एवं एकल नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। समुह नृत्य में ’’शुभ संस्कार’’ ग्रुप ने प्रथम स्थान, ’’ए.वी.एस’’ ग्रुप ने द्वितीय स्थान एवं ’’हंसिका एवं ग्रुप’’ ने तृतीय स्थान प्राप्त किया तथा एकल नृत्य प्रतियोगिता में अन्विता एवं हंसिका ने संयुक्त रूप से प्रथम स्थान प्राप्त किया। द्वितीय स्थान पर सुमोना एवं तृतीय स्थान पर स्मृद्धि एवं सेजल संयुक्त विजेता रही। विजेता प्रतिभागियों को झारखण्ड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष श्री संजय सेठ के द्वारा मोमेन्टो एवं प्रशस्ती पत्र प्रदान किया गया।  मेला में झारखण्ड फिल्म एण्ड थिएटर एकेडमी के द्वारा ’’बोझ’’ नामक विषय पर नुक्कड़ नाटक का मंचन किया गया। इस नुक्कड़ नाटक में वत्र्तमान परिपेक्ष में बुर्जूग एवं नई पीढी के अन्र्तद्धन्द की व्यथा की व्याख्या की गई जिसे मेले में आये आगन्तुकों ने काफी सराहा। आज कला एवं संस्कृति विभाग के तरफ से श्रीमती बुटन देवी, ने पंचपरगनिया नृत्य, श्री चयन भारद्वाज, हिन्दी गायन, सुश्री रिमझीम गोगई, आसाम, बिहू नृत्य, बुलू पापा एण्ड ग्रुप तथा महानन्दा सांस्कृतिक केन्द्र ने प्रस्तुति दी। मेला परिसर में विधायक, श्री योगेन्द्र महतो बाटुल, श्रीमती शर्मिला सोरेन, सदस्य महिला आयोग तथा श्री गुरविन्दर सिंह सेठी, वाइस चेयरमेन, झारखण्ड अल्प संख्यक आयोग ने परिभ्रमण किया।
दिनांकः 05.01.2018 को होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम 

1.    बच्चों के लिए हिडेन टैलेन्ट प्रतियोगिता 1.30 बजे से

2.    श्री पांडया मुण्डा, सिगुआ छऊ की प्रस्तुति

3.    केशव माधव डांस ग्रुप की प्रस्तुति

4.    सुश्री रिमझीम गोगई, आसाम, बिहू नृत्य की प्रस्तुति

5.    रिद्म बैंड की प्रस्तुतिझारखण्ड फिल्म एण्ड थिएटर एकेडमी की ओर से नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति

****

(FJB)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here