Home aas_paas *गुजरात में न वंशवाद चलेगा, न जातिवाद चलेगा – गुजरात में केवल...

*गुजरात में न वंशवाद चलेगा, न जातिवाद चलेगा – गुजरात में केवल विकासवाद चलेगा –  अमित शाह

70
0
SHARE

*गुजरात की जनता के अपार स्नेह, प्यार एवं लगातार मिल रहे समर्थन से मुझे पूर्ण विश्वास है कि भारतीय जनता पार्टी इस बार राज्य में 150 से ज्यादा सीटों पर विजयश्री हासिल कर जीत के सारे रिकॉर्ड ध्वस्त करेगी 

*2017 का गुजरात विधानसभा चुनाव दो पार्टियों या दो नेताओं के बीच नहीं बल्कि यह जातिवाद एवं परिवारवाद और श्री नरेन्द्रभाई मोदी के विकासवाद के बीच है। यह निर्णय गुजरात की जनता को लेना है कि कांग्रेस के जातिवाद के साथ जाना है या भारतीय जनता पार्टी के विकासवाद के साथ 

*चुनाव मुद्दों पर लड़े जाते हैं लेकिन कांग्रेस किस मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है, यह किसी को पता ही नहीं है। कांग्रेस को पहले यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह किस मुद्दे पर गुजरात में चुनाव लड़ रही है। ऐसा लगता है कि मोदी-विरोध के अलावे कांग्रेस के पास कोई और मुद्दा ही नहीं है। 

*कांग्रेस के शासनकाल में लगातार गुजरात के साथ अन्याय होता रहा, सरदार साहब के साथ अन्याय होता रहा, उन्हें भारत रत्न देने में देरी की गई और संसद में उनका तैल-चित्र तक नहीं लगने दिया गया 

*जब केंद्र में कांग्रेस की यूपीए सरकार थी, तब कुल मिलाकर गुजरात को विकास के लिए केवल 63,346 करोड़ रुपए मिलते थे, आज जब केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, तब गुजरात को 1,58,377 करोड़ रुपये मिल रहे हैं 

*कांग्रेस को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उन्होंने नर्मदा योजना को क्यों लटकाए रखा, इसकी ग्रांट मंजूर क्यों नहीं की 

 *मैं पूछना चाहता हूँ कि कश्मीर की आज की वर्तमान स्थिति किसकी देन है? कांग्रेस पार्टी के नेता श्री पी चिदंबरम कहते हैं कि कश्मीर में आजादी के नारे लगते है तो इसमें गलत क्या है, कांग्रेस पार्टी को यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वे पी चिदंबरम के इस बयान का समर्थन करते हैं? 

*कांग्रेस पार्टी के नेता चिदंबरम और शशि थरूर कहते हैं कि रोहिंग्या को भारत में शरण मिलनी चाहिए, क्या भारत की सुरक्षा के साथ कहीं पर भी समझौता होना चाहिए? रोहिंग्या मुद्दे पर अपने नेताओं के बयान पर कांग्रेस पार्टी को अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए 

*श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने गुजरात को कर्फ्यू-मुक्त बनाया है और राज्य को अँधेरे से दूर करने का काम किया है 

*प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साढ़े तीन साल के कार्यकाल में गुजरात की लगभग सभी समस्याओं का समाधान हुआ है 

*चाहे देश के विकास की बात हो, सीमाओं को सुरक्षित करने की बात हो या दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा में वृद्धि करने की बात हो, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर मोर्चे में सफलता के नए आयाम स्थापित किये हैं 

भावनगर (गुजरात) 21.11.2017 – भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज गुजरात के भावनगर में आयोजित एक विशाल जनसभा को संबोधित किया और राज्य की जनता से कांग्रेस के जातिवाद, भ्रष्टाचार और अराजकता के बजाय भाजपा के विकास को जनादेश देने की अपील की। उन्होंने राज्य की जनता से गुजरात में इस बार तीन चौथाई बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने और कांग्रेस को जड़ से उखाड़ फेंकने का आह्वान करते हुए कहा कि हम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में गुजरात के विकास की गति और गति देने के लिए कटिबद्ध हैं। इससे पहले भावनगर पहुँचने पर उन्होंने जनसभा स्थल तक एक भव्य रोड शो किया। इस रोड शो में माननीय अध्यक्ष जी के साथ श्री जीतूभाई वाघाणी और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव श्री भूपेन्द्र यादव भी उपस्थित थे। इस रोड शो को लेकर कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह था। जनसभा के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष जी की उपस्थिति में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री जीतूभाई वाघाणी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 2017 का गुजरात विधानसभा चुनाव दो पार्टियों या दो नेताओं के बीच नहीं बल्कि जातिवाद एवं परिवारवाद और श्री नरेन्द्रभाई मोदी के विकासवाद के बीच है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आंदोलनों को आउटसोर्स कर गुजरात को एक बार फिर से जातिवाद के चंगुल में फंसाना चाहती है। भावनगर की धरती से उन्होंने गुजरात की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि यह निर्णय आपको लेना है कि कांग्रेस के जातिवाद के साथ जाना है या भारतीय जनता पार्टी के विकासवाद के साथ। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने समग्र राष्ट्र को जातिवाद के चंगुल से मुक्त करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के अर्थतंत्र को मजबूत किया है, देश की सीमा की सुरक्षा को सुदृढ़ किया है और देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, पिछड़े, आदिवासी, एवं महिलाओं के लिए कल्याण की अनगिनत योजनायें चलाई हैं और इसे नीचे तक पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि मोदी जी के तीन साल के कार्यकाल में गुजरात की लगभग सभी समस्याओं का समाधान हुआ है। उन्होंने कहा कि गुजरात में न वंशवाद चलेगा, न जातिवाद चलेगा – गुजरात में केवल विकासवाद चलेगा, यही गुजरात की आम जनता की आवाज है। 

श्री शाह ने कहा कि चुनाव मुद्दों पर लड़े जाते हैं लेकिन कांग्रेस किस मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है, यह किसी को पता ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को पहले यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह किस मुद्दे पर गुजरात में चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी सहित जितने भी कांग्रेस नेता गुजरात आये हैं, उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का विरोध करने के अलावे कोई और बात ही नहीं की है, ऐसा लगता है कि मोदी-विरोध के अलावे कांग्रेस के पास कोई और मुद्दा ही नहीं है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हमेशा से सर्वांगीण विकास के मुद्दे पर ही चुनाव लड़ती आई है। उन्होंने कहा कि हमने हमेशा समाज के हर वर्ग की भलाई, दलितों, पिछड़ों एवं आदिवासियों के उत्थान, राज्य के सर्वांगीण विकास, भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो-टॉलरेंस की नीति, क़ानून-व्यवस्था की स्थिति में सुधार और सीमाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि आज भावनगर की जनता ने विकासवाद के प्रति जो अपना अगाध प्यार जताया है, यही गुजरात की जनता का कांग्रेस को जवाब है। 

श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात को स्थिरता देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने गुजरात को कर्फ्यू-मुक्त बनाया है और राज्य को अँधेरे से दूर करने का काम किया है। उन्होंने गुजरात की जनता से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या आपको ऐसी सरकार चाहिए जो गुजरात में एक साल के 250 दिनों तक कर्फ्यू लगाए रखती थी, क्या आपको ऐसी सरकार चाहिए जिसके समय राज्य में क़ानून-व्यवस्था बदहाल और चरमराई हुई थी या फिर ऐसी सरकार चाहिए जिसने गुजरात को लॉ एंड ऑर्डर और कर्फ्यू की समस्या से निजात दिलाकर विकास पर देश का अव्वल राज्य बनाया। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में लगातार गुजरात के साथ अन्याय होता रहा, सरदार साहब के साथ अन्याय होता रहा, उन्हें भारत रत्न देने में देरी की गई और संसद में उनका तैल-चित्र तक नहीं लगने दिया गया।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने वर्षों तक नर्मदा परियोजना को लटकाए रखा, डैम के दरवाजे लगाने तक को मंजूरी नहीं दी गई लेकिन प्रधानमंत्री बनने के 14 दिनों में ही श्री नरेन्द्रभाई मोदी जी ने डैम के दरवाजे लगाने को मंजूरी दे दी और हाल ही में नर्मदा योजना को भी राष्ट्र को समर्पित कर दी गई। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने तीन साल की अवधि में ही गुजरात के लिए जो विकास के कार्य किये हैं, वह अभूतपूर्व है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के तीन साल की अवधि में गुजरात को बुलेट ट्रेन की सौगात मिली, इंटरनेशनल एयरपोर्ट मिला, रो-रो फेरी सेवा की शुरुआत हुई और 2500 किलोमीटर हाइवे का निर्माण हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गुरजात को क्रूड ऑयल की रॉयल्टी ग्रांट भी रोक दी थी जबकि अब गुजरात को हर वर्ष रॉयल्टी ग्रांट के लगभग 8,000 करोड़ रुपये मिला करेंगे। 

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष ने गुजरात को पर्यटन सेंटर समझ लिया है,  उन्होंने कहा कि केंद्र में 10 सालों तक सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार सत्ता में रही, राहुल गांधी को इस बात का हिसाब देना चाहिए कि इस दौरान कांग्रेस ने गुजरात के लिए क्या किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान 13वें वित्त आयोग में गुजरात को सेन्ट्रल टैक्स के रूप में केवल 43,345 करोड़ रुपये प्राप्त हुए जबकि मोदी सरकार के दौरान 14वें वित्त आयोग में गुजरात को 1,22,453 करोड़ रुपये प्राप्त हुए। उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग में ग्रांट इन ऐड के तौर पर गुजरात को 8,486 करोड़ रुपये मिले थे जबकि 14वें वित्त आयोग में ग्रांट इन ऐड के रूप में गुजरात के लिए 17,962 करोड़ रुपये आवंटित किये गए हैं। उन्होंने कहा कि स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फंड में भी 839 करोड़ रुपये की वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर जब केंद्र में कांग्रेस की यूपीए सरकार थी, तब गुजरात को विकास के लिए केवल 63,346 करोड़ रुपए मिलते थे, आज जब केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, तब गुजरात को 1,58,377 करोड़ रुपये मिल रहे हैं। 

भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस ने नर्मदा योजना को क्यों लटकाए रखा, इसकी ग्रांट मंजूर क्यों नहीं की। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 1995 के बाद से गुजरात की स्थिति में आमूल-चूल परिवर्तन किया है। उन्होंने कहा कि 1995 की तुलना में से पहले और आज के गुजरात में कृषि क्षेत्र में अंतर को स्पष्ट करते हुए श्री शाह ने कहा कि कृषि क्षेत्र में भी गुजरात ने उल्लेखनीय प्रगति हासिल की है। उन्होंने कहा कि मूंगफली, फल, सब्जी, कपास और मसाले के उत्पादन में भी काफी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि अनाज के उत्पादन भी उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि नर्मदा का पानी सौराष्ट्र और बोटाद तक पहुंचा है। 

श्री शाह ने कहा कि मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूँ कि कश्मीर की आज की वर्तमान स्थिति किसकी देन है? उन्होंने कहा कि जब उरी में कायरतापूर्ण तरीके से पाक प्रेरित आतंकवादियों के द्वारा हमारे सोये हुए जवान को शहीद कर दिया गया लेकिन इस बार केंद्र में कांग्रेस की नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी की श्री नरेन्द्र मोदी सरकार थी, हमने 10 दिन में ही पाकिस्तान के घर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया और हमारे वीर जवानों की शहादत का बदला लिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता श्री पी चिदंबरम कहते हैं कि कश्मीर में आजादी के नारे लगते है तो इसमें गलत क्या है, कांग्रेस पार्टी को यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वे पी चिदंबरम के इस बयान का समर्थन करते हैं? रोहिंग्या मुद्दे पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता पी चिदंबरम और शशि थरूर कहते हैं कि रोहिंग्या को भारत में शरण मिलनी चाहिए, क्या भारत की सुरक्षा के साथ कहीं पर भी समझौता होना चाहिए, कांग्रेस पार्टी को इस विषय की गंभीरता की थोड़ी सी भी समझ है कि नहीं। उन्होंने कहा कि रोहिंग्या मुद्दे पर अपने नेताओं के बयान पर कांग्रेस पार्टी को अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि चाहे देश के विकास की बात हो, सीमाओं को सुरक्षित करने की बात हो या दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा में वृद्धि करने की बात हो, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर मोर्चे में सफलता के नए आयाम स्थापित किये हैं। उन्होंने गुजरात की जनता से करबद्ध निवेदन करते हुए कहा कि आप भारी मतों से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों को विजयी बनाइये और 150 से अधिक सीटें पर भाजपा को विजयी बना कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के हाथों को मजबूत कीजिये। उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता का भाजपा को मिल रहे अपार प्यार और अभूतपूर्व समर्थन से मुझे पूर्ण विश्वास है कि भारतीय जनता पार्टी इस बार 150 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल करेगी और जीत के सभी रिकॉर्ड ध्वस्त करेगी।

(FJB)