यूरोपियन यूनियन फिल्म फेस्टिवल का आयोजन से झारखण्ड में फिल्म के विकास को एक नई दिशा मिलेगी – रामलखन प्रसाद गुप्ता

रांची,18.08.2017 – श्री रामलखन प्रसाद गुप्ता, निदेशक सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने यूरोपियनयूनियन फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यूरोपियन यूनियन फिल्म फेस्टिवल का आयोजन से झारखण्ड में फिल्म के विकास को एक नई दिशा मिलेगी। आड्रे हाउस में आयोजित यह फिल्म फेस्टिवल इतिहास के पन्नों में सुनहरे अक्षरों में लिखा जायेगा।
श्री गुप्ता ने कहा कि झारखण्ड में फिल्म नीति के बनने के बाद यहां फिल्म के विकास को गति मिली है। यहां के फिल्मकार एवं कलाकार इसका लाभ ले रहें है। उन्होंने कहा कि हम सिनेमा के माध्यम से झारखण्ड की खुबसूरती, संस्कृति एवं सभ्यता को देश ही नहीं अपितु विदेशों तक भी पंहुचायेंगें,  किसी भी देश एवं राज्य की संस्कृति को समझने का सबसे अच्छा माध्यम सिनेमा है। उन्होंने कहा कि फिल्म में रुचि रखने वाले लोग इस फिल्म फेस्टिवल में भाग लें।
उन्होंने कहा कि इस फिल्म फेस्टिवल में युरोप के विभिन्न देशों के 22 फिल्मों के प्रदर्शन से झारखण्ड के फिल्मकार एवं इससे जुड़े लोग आधुनिक तकनीक तथा फिल्मों के प्रेजेन्टेशन के बारे में जान पायेंगें। झारखंड में फिल्म उद्योग के विकसित होने से पर्यटन को तो बढ़ावा मिलेगा ही साथ ही साथ लोंगो को रोजगार भी मिलेगा । उन्होंने कहा कि झारखण्ड सरकार, फिल्म इंस्टीट्यूट पूना तथा नेशनल फिल्म आरकाइव के सहयोग से अक्टूबर-नवम्बर माह मे 80 प्रशिक्षुओं के लिये फिल्म एपरीयेसन्स कोर्स का आयोजन किया जायेगा। इसके अलावे भविष्य में नेशनल फिल्म फेस्टिवल तथा झारखण्ड के फिल्मों के फेस्टिवल का भी आयोजन किया जायेगा।
इस अवसर पर कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

****

(FJB)

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *