रायपुर, 23 मई 2015

मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड ने आज यहां मंत्रालय में आयोजित बैठक में छत्तीसगढ़ इंफोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) द्वारा संचालित डिजिटल सचिवालय परियोजना के क्रियान्वयन की समीक्षा की। बैठक में बताया कि मंत्रालय में परियोजना का क्रियान्वयन शुरू कर दिया गया है और मंत्रालय स्थित 42 विभागों से प्राप्त दो लाख 33 हजार नस्तियों के लगभग एक करोड़ 20 लाख दस्तावेजों का अब तक डिजिटाइजेशन कर लिया गया है। मंत्रालय में आफिस आटोमेशन एप्लीकेशन का प्रशिक्षण 31 विभागों में दिया जा रहा है और 21 विभागों में डिजिटल कार्य पद्धति से काम होने लगा है।
मुख्य सचिव श्री ढांड ने शेष सभी विभागों में आफिस आटोमेशन का प्रशिक्षण जून माह तक अनिवार्य रूप से देने के निर्देश दिये है। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशिक्षण के लिये प्रशिक्षण कक्ष में पर्याप्त संख्या में कम्प्यूटरों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये हैं। बैठक में चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सौरभ कुमार ने डिजिटल सचिवालय परियोजना के कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बैठक में कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री अजय सिंह, आदिम जाति विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एन.के. असवाल, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एम.के. राउत, उर्जा विभाग के प्रमुख सचिव श्री अमन सिंह, स्वास्थ्य विभाग के प्रमख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, प्रमुख सचिव विधि विधायी विभाग श्री ए.के.सामंत रे, प्रमुख सचिव गृह श्री बी.व्ही.आर. सुब्रमणियम और सचिव जल संसाधन डॉ बी.एल.अग्रवाल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे ।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *