22-अप्रैल, 2015
चेन्नई में हुए एक सड़क हादसे में रक्षा मंत्रालय के जनसंपर्क अधिकारी श्री नटेसन आंडवन का निधन हो गया है। आज सुबह हुई इस सड़क दुर्घटना में उन्हें गंभीर चोटें आई थीं। वह 52 वर्ष के थे।

श्री आंडवन वर्ष 2009 में स्थापित रक्षा मंत्रालय के डीपीआर से जुड़े और बेहद कम समय में उन्होंने अपने पेशेवराना अंदाज, मिलनसार व्यक्तित्व और रक्षा संबधी मुद्दों में गहरी जानकारी व रुचि के जरिए मीडिया बिरादरी के दिल में जगह बना ली थी।

अपने कार्यकाल के दौरान वह दक्षिण अफ्रीका में अमूमन सभी रक्षा प्रतिष्ठानों में गए और उनकी गतिविधियों व उपलब्धियों का प्रचार किया। उन्होंने अपने क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर आयोजित भर्ती रैलियों में सक्रिय भूमिका निभाई। उन्होंने युवाओं को सशस्त्र बलों में करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित व उत्साहित किया, जिसके लिए उन्हें लंबे समय तक याद किया जाएगा। उन्होंने बेंगलुरु में आयोजित होने वाले एशिया के प्रतिष्ठित शो एयरो इंडिया के कई संस्करणों का प्रचार किया।

अकादमिक शिक्षा की ओर झुकाव होने के चलते श्री आंडवन ने जन संचार में एम. फिल की डिग्री हासिल की। वह रक्षा मंत्रालय के जन संपर्क निदेशालय द्वारा करवाए जाने वाले प्रतिष्ठित रक्षा संवाददाता कोर्स के 2009 बैच से थे। वह देश के सबसे पुराने पाक्षिक रक्षा पत्र सैनिक समाचार से भी जुड़े हुए थे। डीपीआर में शामिल होने से पहले उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की एआईआर, दूरदर्शन, डीएवीपी, पीआईबी और डीएफपी समेत कई मीडिया इकाइयों में काम किया।

श्री आंडवन के परिवार में उनकी पत्नी, एक पुत्र और एक पुत्री है। उनकी पत्नी श्रीमती एस जॉय आकाशवाणी, चेन्नई में न्यूज एडिटर हैं।

रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर ने श्री आंडवन के असामयिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने अपने संदेश में कहा है, ‘श्री आंडवन एक पेशेवर कम्युनिकेटर थे जिन्होंने पत्रकारिता और जन संपर्क क्षेत्र के हर पहलू में उत्कृष्ट कार्य किया। उन्होंने मीडिया बिरादरी के बीच अपनी जबरदस्त छाप छोड़ी। दुख के इन क्षणों में उनके परिवार के सदस्यों के साथ मेरी संवेदना है।

रक्षा सचिव श्री आरके माथुर और महानिदेशक (मीडिया एवं संचार), श्री सितांशु कर ने भी श्री आंडवन के निधन पर शोक जताया है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *