उपायुक्त के निर्देश पर ध्रुमपान करने वाले व्यक्ति का मौके पर आर्थिक दंड वसूला गया एवं चेतावनी दी गई

राँची, 15.03.2017 –  को उपायुक्त, राॅची मनोज कुमार की अध्यक्षता में जिला तम्बाकू नियंत्रण सेल एवं सोसियों इकोनाॅमिक एण्ड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाईटी (SEEDS) संयुक्त तत्वाधान में तम्बाकू नियन्त्रण अधिनियम (कोटपा) 2003 के प्रभावी तरीके से जिले में लागू करने से संबंधित एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन समाहरणालय ब्लाॅक-ए के कमरा संख्या-207 में किया गया।
तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम को तकनीकी सहायता देने वाली संस्था सीड्स के कार्यकारी निदेशक दीपक मिश्रा ने कार्यशाला के आरंभ में एक लघु फिल्म के माध्यम से तम्बाकू सेवन से होने वाले खतरों को विस्तार से बताया। आरंभ में लोग शौकिया तौर पर या फिर गलत संगत में पड़कर धु्रमपान करते हैं फिर यह आदत बन जाता है। धु्रमपान जिन्दगी के 10 साल कम कर देता है। देष की युवा आबादी का 35 प्रतिशत लोग किसी न किसी रूप में तम्बाकू का सेवन कर रहे है। उपस्थित प्रतिभागियों को बताया गया कि तम्बाकू सेवन से हृदय, फेफड़ो से संबंधित बीमारियाॅ तो होती ही है लेकिन कैंसर का खतरा सबसे ज्यादा होता है। आॅकड़ों के अनुसार भारत में तम्बाकू जनित रोगो से प्रतिदिन लगभग 2700 मौते होती हैं जो बेहद चिन्ता का कारण है।
कार्यशाला में तम्बाकू सेवन के बढ़ते आॅकड़ो के कारणो पर भी प्रकाश डाला गया। दीपक मिश्रा द्वारा बताया गया कि तम्बाकू नियंत्रण अधिनियम(कोटपा 2003) में कई प्रावधान है। जो तम्बाकू की बिक्री सेवन आदि पर कई तरह के प्रतिबंध, आर्थिक दंड एवं अन्य सजा का वर्णन करते है। कोटपा के प्रावधानों के बारे में आम लोगो, नियंत्रण समिति के सदस्यों, सरकारी अधिकारियों को विस्तार से बताने की आवष्यकता पर बल दिया गया। कार्यषाला में अधिनियम की विभिन्न धाराओं को भी बताया गया। इस बात की आवष्यकता बतायी गयी कि तम्बाकू नियंत्रण में प्रेस एवं मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। उपायुक्त महोदय द्वारा तम्बाकू मुक्त झारखण्ड और तम्बाकू मुक्त जिला बनाने के लिए जिला तम्बाकू नियंत्रण सेल,राॅची के पदाधिकारियों को निदेश दिया गया कि कोटपा 2003 के प्रति लोगो को जागरूक करने की आवष्यकता को ध्यान में रखते हुए मार्च अप्रैल में सीड्स की सहायता से वृहद पैमाने पर समाज के विभिन्न संस्थाओं, व्यवसायी वर्ग, दुकानदारो, पुलिस पदाधिकारियों, पंचायत सेवकों के लिए अलग अलग कार्यशालाएॅ आयोजित कर हर तबके के लोगो को जोड़ने का निदेश देते हुए उपायुक्त,राॅची द्वारा प्रखण्ड स्तर पर भी आॅडियो-वीडियो माध्यम, लघु फिल्मों आदि के द्वारा प्रचार प्रसार का निर्देश दिया गया। उप विकास आयुक्त,राॅची श्री बिरेन्द्र कुमार सिंह द्वारा शहर में बड़े पैमाने पर संचालित हुक्का बार पर नियंत्रण का भी सुझाव दिया गया।
उपायुक्त के निदेष पर कार्यषाला के समापन के उपरान्त, चान्हो, ओरमांझी और कांके के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, नगर पुलिस अधीक्षक, जिला तम्बाकू नियंत्रण सेल की नोडल पदाधिकारी के धावा दल ने 7 तम्बाकु उत्पाद, विक्रेताओ, 2 होटल, रेस्टोरेन्ट, 1 ध्रुमपान करने वाले व्यक्ति का मौके पर चालान काट कर आर्थिक दंड वसूला गया एवं चेतावनी दी गई।
आज की बैठक में सिविल सर्जन,राॅची जिले के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी सभी प्रखण्ड चिकित्सा पदाधिकारी शामिल थे।

****

(DPRO,Ranchi)

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *