दुमका, 25.12.16 – दुमका के उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा द्वारा आज जरमुण्डी प्रखंड के चमरा बहियार पंचायत को कैशलेस विनिमय सक्षम पंचायत घोषित किया गया। उपायुक्त ने प्रमाण-पत्र देकर चमरा बहियार को कैशलेस पंचायत घोषित किया। 5 हजार से अधिक आबादी एवं 1 हजार से अधिक परिवारों वाला यह गांव कैशलेस विनिमय के लिए पूरी तरह तैयार हो चुका है। पिछले 24 दिनों से जिला प्रशासन, प्रज्ञा केन्द्र एवं विभिन्न बैंकों के कर्मी के दिन रात की मेहनत का नतीजा है कि 25 दिसम्बर 2016, क्रिसमस के दिन चमरा बहियार पूरी तरह कैशलेस ट्रांजेक्शन वाला पंचायत के रूप में जिला को मिला। इस पंचायत के कुल 11 गांव में रहने वाले लोगों को कैशलेस विनिमय का प्रशिक्षण पिछले कई दिनों से दिया जा रहा था।

उपायुक्त ने चमरा बहियार पंचायत भवन में ग्रामीणों को बधाई दी एवं कहा कि बैंक में आपके पैसों को ज्यादा सुरक्षा मिलती है। चलंत मुद्रा से ही समाज के लोगों का भलाई होगा। फोन आपका साथी बनेगा सबलोग एक साथ मिलकर देश को विकास के पथ पर ले जाने के लिए कैशलेस भुगतान करें।
उप निदेशक जनसम्पर्क अजय नाथ झा ने कहा कि डिजिटल हो जाने में ही हमसब की भलाई है। आज के समय में यह आपकी जरूरत है और इसे अपनाना आपका कर्तव्य है। अब आपको बैंक में लाईन लगने की जरूरत नहीं है, घर बैठे बैठे आप रुपये का लेनदेन आसानी से कर सकते हैं। उन्होंने बैंक से अनुरोध किया कि कतिपय ग्रामीण जिनके पास डेविट कार्ड नहीं है उन्हें यथाशीघ्र कार्ड उपलब्ध करायें।
प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि उपायुक्त के निर्देशों का पालन करने का परिणाम दुमका जिला के सामने है। यह एक महत्वपूर्ण शुरूआत है यह सिलसिला चलता रहेगा।
इस अवसर पर मुखिया पूनम मरांडी एवं पंचायत के सभी गांवों के ग्रामीण, व्यवसायी एवं युवा उपस्थित थे।

****

(Iprd-Jharkhand)

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *