नुआग्राम को कैशलेस गांव बनाने हेतु हुई औपचारिक शुरूआत

अधिकारियों संग नुआग्राम पहुंचे उपायुक्त, मोबाइल बैंकिंग पंजीकरण शिविर का उद्घाटन किया

* गांव के सभी बैंक खाता धारकों को मोबाइल बैंकिंग/नेट बैंकिंग से जोड़ा जाएगा, दिया जाएगा प्रशिक्षण। गांव के सभी दुकानदारों को मुफ्त दी जाएगी एटीएम स्वाइप मशीन (POS)

*शिविर में पहले दिन ग्राम प्रधान सहित 25 खाता धारकों का मोबाइल बैंकिंग हेतु किया गया पंजीकरण।

* मोबाइल बैंकिंग भलीभांति सीखने तक गांव में ही कैम्प लगाकर वेब-कियोस्क के माध्यम से दी जाएगी पेंशन।

सभी ग्रामीणों ने कैशलेस विलेज बनाने के लिए दी आम सहमति।

jamshedpur-nuagram-officers-arrived-with-deputy-commissioner-the-opening-of-the-mobile-banking-registration-camp-iprd-jharkhand-finaljustice-in jamshedpur-nuagram-officers-arrived-with-deputy-commissioner-the-opening-of-the-mobile-banking-registration-camp-iprd-jharkhand-finaljustice-in-1जमशेदपुर, उपायुक्त श्री अमित कुमार पोटका प्रखण्ड के नुआग्राम में ग्रामीणों को संबोधित करते हुये कहा कि यह हर्ष की बात है कि नुआग्राम कैशलेस विलेज के माॅडल के रूप में चुना गया है। उन्होंने मोबाइल बैंकिंग प्रयोग करने वाले बुद्धिजीवी ग्रामीणों से अपील की कि वे अपने उन परिजनों या पड़ोसियों को भी मोबाइल बैंकिंग तथा नेट बैंकिंग आदि के बारे में सिखाएं जो अबतक नहीं सीख पाये हैं। वे नुआग्राम के प्राथमिक विद्यालय प्रांगण में बैंक आॅफ इंडिया द्वारा आयोजित विशेष शिविर में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

इस अवसर पर ग्राम प्रधान श्री सरोज कुंडु से आरम्भ करते हुए मोबाइल बैंकिंग हेतु कुल 25 लोगों का पंजीकरण किया गया। उपायुक्त ने मौके पर मौजूद अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री फालगुनी राय को निदेश दिया कि गांव के सभी नागरिकों का अनिवार्य तौर से खाता खुलवाने, सभी को मोबाइल बैंकिंग से जोड़ने, मोबाइल बैंकिंग के बारे में सतत प्रशिक्षण देने, पीओएस मशिन वितरण, वेब-कियोस्क के माध्यम से बुजुर्गों/विधवा/विकलांगों को पेंशन वितरण आदि मामलों का एक माह तक सतत पर्यवेक्षण करने हेतु गांव में लगातार कैम्प करवायें। साथ ही बीडीओ तथा सीओ को निदेश दिया कि वे कैम्प लगाकर किसी कारणवश छूटे पेंशन लाभुकों को पेंशन दिलवाने हेतु कार्रवाई करें।

जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी संजय कुमार ने मोबाइल बैंकिंग सहित कैशलेस बैंकिंग के अन्य तरीकों पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए ग्रामीणों को मोबाइल बैंकिंग पर जोर देने को कहा।

अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री फालगुनी राय के अलावा बैंक आॅफ इंडिया के हाता शाखा के प्रबंधक श्री गोविन्द हांसदा तथा विपणन अधिकारी श्री सौरभ त्रिपाठी ने भी उपस्थित सैकड़ों ग्रामीणों को बैंकिंग तकनीकों के बारे में विस्तार से बताया। फालगुनी राय ने कहा कि गांव के सभी छोटे बड़े दुकानदारों, चिकित्सकों, सब्जी बिक्रेताओं आदि को बिना किसी शुल्क के पाॅस मशीन उपलब्ध करायी जाएंगी ताकि यहां के ग्रामीण मोबाइल बैंकिंग के अलावा दूसरे विकल्प के रूप में एटीएम स्वाइप कर भुगतान करके रोजमर्रा की चीजें खरीद सकेंगे।

ज्ञातव्य हो कि बीते 20 नवम्बर को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय के उप समाहत्र्ता संजय कुमार द्वारा उक्त गांव नुआग्राम को कैशलैस विलेज बनाने हेतु पहल करते हुए ग्राम सभा द्वारा आम सहमति ली गई थी।

(Iprd-Jharkhand)

*****

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *