मध्यप्रदेश में 14,000 नये पुलिसकर्मी की भर्ती की जायेगी

shiv-raj-singh-chouhan-2मध्यप्रदेश में 14,000 नये पुलिसकर्मी की भर्ती की जायेगी

नव आरक्षकों के दीक्षान्त समारोह में मुख्यमंत्री श्री चौहान

भोपाल :  मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने आज इन्दौर के पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में नव आरक्षकों के 69वें दीक्षान्त समारोह में कहा कि मध्यप्रदेश में पिछले पाँच वर्ष में 32 हजार पुलिसकर्मी की भर्ती की गई है। अगले वर्षों में 14 हजार और नये पुलिसकर्मी भर्ती किये जाएँगे। प्रदेश में पुलिस थानों को आधुनिक भी बनाया जा रहा है। पुलिसकर्मियों को बेहतर बुनियादी सुविधाएँ मुहैया करवाने के प्रयास किये जा रहे हैं। अध्यक्षता पुलिस महानिदेशक श्री सुरेन्द्र सिंह ने की। कार्यक्रम में महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, इन्दौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, विधायक सर्वश्री महेन्द्र हार्डिया, सुदर्शन गुप्ता, राजेश सोनकर और सुश्री उषा ठाकुर मौजूद थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था को बेहतर बनाये रखने के लिये निरन्तर कार्य किये जा रहे हैं। दस्यु उन्मूलन की दिशा में भी बेहतर काम किया गया है। नक्सली और आतंकवादी गतिविधियों को प्रभावी रूप से नियंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में शांति और सदभाव का माहौल बना है। इससे प्रदेश में विकास की रफ्तार बनाये रखने में मदद मिल रही है। औद्योगिक निवेश के लिये भी बेहतर वातावरण बना है। बड़ी संख्या में देशी एवं विदेशी कंपनियाँ मध्यप्रदेश में निवेश के लिए आगे आ रही हैं। उन्होंने नव आरक्षकों को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि वे मध्यप्रदेश पुलिस की गौरवशाली परम्परा को कायम रखें। उन्होंने पुलिसकर्मियों से कहा कि वे अपनी सेवा को मिशन के रूप में समझें। महिलाओं की सुरक्षा पर मध्यप्रदेश में विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस की भर्ती में महिलाओं के लिये 33 प्रतिशत पद आरक्षित करने का निर्णय लिया गया है। पुलिसकर्मियों की आवास व्यवस्था के लिये भी अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लेकर उनका क्रियान्वयन किया जा रहा है। उन्होंने पुलिसकर्मियों से कहा कि वे एकाग्रता और आत्मिक शांति के लिये योग और ध्यान पर विशेष ध्यान दें। इससे मन की शांति के साथ शारीरिक बल भी बढ़ेगा।

विशेष पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण) श्रीमती रीना मित्रा ने बताया कि महाविद्यालय में 1400 नव आरक्षक को प्रशिक्षित किया गया है। यह प्रदेश के इतिहास में पहला मौका है जब इतनी बड़ी संख्या में एक साथ नव आरक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षितों में 400 महिलाएँ भी शामिल हैं। अन्त में महाविद्यालय की पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा पाठक सोनी ने आभार माना। इस मौके पर नवआरक्षकों को शपथ भी दिलाई गयी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नव आरक्षकों द्वारा प्रस्तुत आकर्षक परेड की सलामी ली। उन्होंने परेड का निरीक्षण भी किया। श्री चौहान ने उत्कृष्ट प्रशिक्षणार्थियों को पुरस्कृत भी किया।

दिनेश मालवीय

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *