Home हरियाणा हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने ऐलान किया है कि अगले...

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने ऐलान किया है कि अगले छह महीने में प्रदेश में पुलिस सहित सभी विभागों में योग्यता के आधार पर रेगुलर भर्तियां की जाएंगी।

115
0
SHARE

21-अप्रैल, 2015    चंडीगढ़, 21 अप्रैल- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने ऐलान किया है कि अगले छह महीने में प्रदेश में पुलिस सहित सभी विभागों में योग्यता के आधार पर रेगुलर भर्तियां की जाएंगी। उन्होंने कहा कि छोटा प्रदेश होने के कारण हरियाणा में विकास की अपार संभावनाएं हैं और आने वाले समय में यहां विकास को इतनी अधिक गति मिलेगी जिसकी कल्पना भी प्रदेश के लोगों ने नहीं की होगी। मुख्यमंत्री मंगलवार को समालखा के गांव डिकाडला में आचार्यकुलम् के शिलान्यास समारोह में उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। श्री मनोहर लाल ने पंतजलि योगपीठ के संस्थापक एवं हरियाणा के योग ब्रांड एंबेसडर बाबा रामेदव, शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज, सांसद अश्विनी चोपड़ा, डा. ओमस्वरूप, आचार्य बालकृष्ण योगी व महाशय धर्मपाल की मौजूदगी में पंरागपरागत एवं आधुनिक शिक्षा पर आधारित शिक्षण संस्थान आचार्यकुलम का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा में बड़े सुधार की जरूरत है और सरकार इस दिशा में कदम बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ संस्कार की भी बड़ी जरूरत है और आचार्यकुलम् शिक्षा के साथ-साथ संस्कार का भी संवाहक होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा को बने हुए 49 वर्ष हो चुके हैं लेकिन इतने वर्षों में प्रदेश का वो विकास नहीं हुआ जिसकी अपेक्षा की जानी चाहिए। उन्होंने कहा संसाधनों और भौगोलिक स्थिति के लिहाज से प्रदेश में विकास की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने बेबाकी के साथ कहा कि विकास के मामले में हरियाणा आज देश में 11वें स्थान पर है। हमारी कोशिश है कि संपूर्ण हरियाणा का विकास करते हुए हम इसे अग्रणी राज्यों की श्रेणी में खड़ा करें। प्राकृतिक आपदा से हुए फसल नुकसान पर मुख्यमंत्री ने फिर दोहराया कि किसानों के एक-एक दाने की खरीद सरकार द्वारा की जाएगी। उन्होंने कहा कि गिरदावरी के एक महीने के भीतर किसानों को उनकी खराब हुई फसल के मुआवजे के भुगतान के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा किसान की दु:ख की घड़ी में पूरी सरकार किसानों के साथ खड़ी है। स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने इस मौके पर कहा कि आचार्यकुलम के माध्यम से मिलने वाली शिक्षा भारतीय सभ्यता और संस्कृति से भी बच्चों को जोडऩे का काम करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भी प्रदेश के करीब 6500 गांवों में योगशालाएं खोलने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा सरकार की ओर से ऐसा नियम बनाया जाएगा जिसके अन्तर्गत प्रदेश में निजी अथवा सरकारी स्कूल में पहला पीरियड योगा का होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश को आयुर्वेद में देशभर में विशिष्ट पहचान मिले, इसके लिए प्रदेश में हर्बल फोरेस्ट की परिकल्पना की गई है। उन्होंने कहा कि हर्बल फोरेस्ट पंचकूला के मोरनी हिल में विकसित किया जाएगा जहां 2500 से अधिक औषधीय पौधे होंगे। प्रदेश के शिक्षा मंत्री श्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि इतिहास इस बात का गवाह है कि हमारे देश की शिक्षा पद्धति हमेशा समृद्ध रही है। उन्होंने कहा कि आचार्यकुलम् सरीखे संस्थान से निश्चित तौर पर संस्कारवान शिक्षा पद्धति की उम्मीद जगी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से भी इस तरह के उपाय किए जा रहे हैं कि आधुनिक शिक्षा के साथ-साथ बच्चों को संस्कारवान शिक्षा भी मिले। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि समृद्ध और संस्कारित शिक्षा न केवल बौद्धिक विकास करती है बल्कि इससे समग्र विकास की संभानाओं को भी बल मिलता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार की ओर से प्रदेश में इस तरह का औद्यौगिक वातावरण बनाया जा रहा है ताकि अधिक से अधिक निवेश आए और प्रदेश के युवाओं को रोजगार के पर्याप्त एवं सुलभ अवसर मिल सकें। इस मौके पर आचार्य बलदेव, डा. वेद प्रताप वैदिक, विधायक रविंद्र मछरौली, महिपाल ढांडा, रोहिता रेवड़ी, कृष्णलाल पंवार, बख्शीश सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री आई.डी. स्वामी, मेयर भूपेंद्र सिंह, रोहतक मंडल के आयुक्त राजीव रंजन, पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा व एस.डी.एम. समालखा गौरव कुमार सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here