Home aas_paas स्‍पेन ने स्‍मार्ट शहर सहयोग के‍ लिए समझौता ज्ञापन का खाका प्रस्‍तुत...

स्‍पेन ने स्‍मार्ट शहर सहयोग के‍ लिए समझौता ज्ञापन का खाका प्रस्‍तुत किया

114
0
SHARE

27-अप्रैल, 2015

Shri M. Venkaiah Naidu-finaljustice

स्‍पेन की सरकार ने आज भारत में स्‍मार्ट और वहनीय शहरों को विकसित करने में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन का खाका प्रस्‍तुत किया। शहरी विकास से संबंधित इस समझौते ज्ञापन का खाका संसद भवन में शहरी विकास मंत्री श्री एम वैंकेया नायडू के साथ स्‍पेन के विदेश मामलों और सहयोग मंत्री श्री जोस गार्शिया मारगेलो वाय मार्फिल के नेतृत्‍व में स्‍पेन के एक उच्‍च स्‍तरीय प्रतिनिधि मंडल की बातचीत के दौरान प्रस्‍तुत किया गया। स्‍पेन ने इस समझौते ज्ञापन के तहत दिल्‍ली को देश का पहला वैश्विक और स्‍मार्ट शहर बनाने में सहायता देने का प्रस्‍ताव किया है।

पिछले वर्ष नवम्‍बर में श्री वैंकेया नायडू द्वारा बार्सिलोना में स्‍मार्ट सिटी विश्‍व कांग्रेस मेले में भाग लेने और इस वर्ष फरवरी में स्‍पेन के व्‍यापार सचिव जैमी गार्शिया लेगाज़ के साथ उनकी बैठक के बाद स्‍पेन ने यह समझौता ज्ञापन का खाका प्रस्‍तुत किया है।

भारत सरकार के स्‍मार्ट शहरों के निर्माण की पहल में स्‍पेन की रुचि का स्‍वागत करते हुए श्री नायडू ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि सरकार समझौता ज्ञापन के खाके पर सभी संबंधित एजेंसियों के साथ विचार-विमर्श कर आगे कार्रवाई करेगी।

श्री मार्फिल ने कहा कि उनका देश रेलवे और मेट्रो नेटवर्क, शिपिंग में सड़क व बंदरगाह के अलावा व्‍यर्थ पदार्थों की रि-साईकलिंग, जल प्रबंधन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों के संवर्द्धन के क्षेत्र में विश्‍वस्‍तरीय क्षमता वाले देशों में से एक है और वह भारत के बुनियादी ढांचा को बढ़ावा देने के उसके प्रयासों में सहयोग करने के लिए उत्‍सुक है। श्री मार्फिल ने इस संबंध में लैटिन अमरीकी देशों में स्‍पेन की कम्‍पनियों द्वारा किए गए व्‍यापक कार्यों के बारे में भी बताया।

श्री वैंकेया नायडू ने केंद्र सरकार द्वारा व्‍यापार में सरलीकरण, बुनियादी ढांचे का विकास, विदेशी प्रत्‍यक्ष निवेश की शर्तों में उदारीकरण सहित देश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए उठाये गए कदमों के बारे में विस्‍तृत जानकारी दी।

बातचीत के दौरान यह पता चला कि 42 वर्ष के बाद स्‍पेन का कोई विदेश मंत्री भारत दौरे पर आया है और 2015 में अब तक स्‍पेन के नेताओं की पाँच उच्‍च स्‍तरीय भारत यात्राऐं हुई हैं इनमें रक्षा, व्‍यापार मंत्री और प्रधानमंत्री के विशेष दूत की यात्राऐं शामिल हैं। इससे भारत सरकार के विकास से संबंधित कदमों में स्‍पेन की रुचि का पता चलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here