Home haal_philhaal श्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने प्रधानमंत्री की ओर से अजमेर शरीफ में...

श्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने प्रधानमंत्री की ओर से अजमेर शरीफ में चादर चढ़ाई

130
0
SHARE
23-अप्रैल, 2015
केंद्रीय संसदीय और अल्‍पसंख्‍यक मामलों के राज्‍य मंत्री श्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कल प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की ओर से अजमेर शरीफ में 803वें सालाना उर्स के अवसर पर सूफी संत हजरत ख्‍़वाजा मोईनुद्दीन चिश्‍ती की दरगाह पर चादर चढ़ाई। इस अवसर पर बड़ी संख्‍या में लोगों ने अपने घरों और दुकानों से प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा भेजी गई चादर और विश्‍व शांति, सामाजिक सौहार्द्ध और विस्‍तृत वृद्धि के संदेश का स्‍वागत करते हुए पुष्‍प वर्षा की। श्री नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सालाना उर्स की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं दी हैं।श्री नकवी ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी का संदेश पढ़ा। अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने लोगों को ख्‍वाजा मोईनुद्दीन चिश्‍ती के सालाना उर्स के अवसर पर शुभकामनाएं दीं और कहा कि भारत हजारों वर्षों से ऋषि-मुनियों, संतों और पीर पैगम्‍बरों की जननी रहा है। ख्‍वाजा मोईनुद्दीन चिश्‍ती ने भारत की सूफी-संत परंपरा को कायम रखते हुए सभी धर्मों के अनुयायियों को आपस में प्रेम पूर्वक रहने का संदेश दिया है। श्री मोदी ने दुनिया में भारत के सर्वोच्‍च स्‍थान पर पहुंचने और विकास का लाभ देश के सभी लोगों तक पहुंचने की आशा व्‍यक्‍त की। अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा कि ख्‍वाजा मोईनुद्दीन चिश्‍ती का शांति और भाईचारे का संदेश आज भी प्रासंगिक है।

श्री नकवी ने चादर चढ़ाने के बाद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री राष्‍ट्र को विकास के पथ पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। विकास की किरण समाज के अंतिम व्‍यक्ति तक पहुंचनी चाहिए यह हमारा संकल्‍प और संदेश है।

संपूर्ण विश्‍व के लिए शांति, प्रगति और समृद्धि के प्रति प्रधानमंत्री की वचनबद्धता और प्रार्थना को दोहराते हुए श्री नकवी ने कहा कि वे भारत को ‘श्रेष्‍ठ भारत’ बनाने के प्रति ईमानदारी से कार्य कर रहे हैं और सूफी संतों का आशीर्वाद इस लक्ष्‍य को प्राप्‍त करने में सहायता प्रदान करेगा।

श्री नकवी ने कहा कि आतंकवाद विश्‍व शांति, प्रगति और मानवता का दुश्‍मन है। हमें आतंकवाद के शैतान को खत्‍म करने के लिए एकजुट होना होगा। भारत सूफी संतों का देश है और बुरी शक्तियां अपने कुटिल प्रयासों में यहां सफल नहीं होंगी। देश का हर धर्म और हर क्षेत्र धर्म की आड़ में मानवता के विरूद्ध किसी भी षडयंत्र को परास्‍त करने के लिए प्रतिबद्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here