Home छत्तीसगढ़ जंगल में भटके बच्चे की मौत : मुख्यमंत्री ने गहरा दुःख व्यक्त...

जंगल में भटके बच्चे की मौत : मुख्यमंत्री ने गहरा दुःख व्यक्त किया : मुख्यमंत्री ने दिए मामले की दण्डाधिकारी जांच के निर्देश

92
0
SHARE

सीतापुर के एस.डी.एम. करेंगे जांच

रायपुर, 23 मई 2015

 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सरगुजा जिले के मैनपाट क्षेत्र के नर्मदापुर खालपारा निवासी एक परिवार के पांच वर्षीय बच्चे की जंगल में भटकने पर हुई मृत्यु की घटना पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। डॉ. सिंह ने कहा है कि यह एक अत्यंत दर्दनाक घटना है, इससे मुझे काफी पीड़ा हुई है। उन्होंने बच्चे के शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना और सहानुभूति प्रकट की है। मुख्यमंत्री ने सरगुजा कलेक्टर को पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने और मामले की दण्डाधिकारी जांच के निर्देश दिए हैं। सरगुजा कलेक्टर श्रीमती ऋतु सेन ने आज रात अम्बिकापुर से टेलीफोन पर यहां बताया कि उन्होंने इस घटना की दण्डाधिकारी जांच का आदेश दिया है। इसके लिए सीतापुर के अनुविभागीय दण्डाधिकारी (एसडीएम) श्री एम.एस. भगत को जांच अधिकारी बनाया गया है, जो इस बच्चे की मृत्यु की परिस्थितियों की जांच करेंगे। दण्डाधिकारी जांच का आदेश कलेक्टोरेट से जारी किया जा रहा है। कलेक्टर श्रीमती सेन ने यह भी बताया कि उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग की आई.सी.डी.एस. परियोजना के अधिकारियों को पीड़ित परिवार से तत्काल सम्पर्क करने के निर्देश दिए हैं और कहा है कि परिवार के अन्य बच्चों की विभिन्न जरूरतों का पता लगाकर उनकी पूरी मदद की जाए। पीडित परिवार के अन्य दो बच्चों को जिला प्रशासन के संरक्षण में एक समाज सेवी संस्था में रखकर उनकी बेहतर देखभाल की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here